15.5वे ओवर में धोनी विराट कोहली के ऊपर चिल्लाते हुए आये नजर, बोला चीकू मैं बोल रहा हूँ तू बस रिव्यू ले बहस न कर और विकेट मिल गया

15.5वे ओवर में धोनी विराट कोहली के ऊपर चिल्लाते हुए आये नजर, बोला चीकू मैं बोल रहा हूँ तू बस रिव्यू ले बहस न कर और विकेट मिल गया
भारत और वेस्टइंडीज के बीच में पांचवा वनडे मैच आज तिरुवंतपुरम में हो रहा है. पहले टॉस जीतकर वेस्टइंडीज के कप्तान जैसन होल्डर ने बल्लेबाजी करना चुना था. जिस पिच पर पहले गेंदबाजी करनी चाहिए थी वहां पर जैसन होल्डर ने बल्लेबाजी करना चुना। होल्डर ने निश्चित रूप से अपने बल्लेबाजों के साथ न्याय नहीं किया है. यह फैसला हर किसी को हैरान करने वाला रहा है यहां तक कि टॉस हारकर विराट कोहली ने भी बोला कि अगर वह टॉस जीतते तो पहले वह गेंदबाजी करना ही पसंद करते। इस वनडे सीरीज में ऐसा पहली बार हुआ है कि वेस्टइंडीज के कप्तान होल्डर ने टॉस जीता है और शायद ही कारण था कि उन्होंने पिच को बिना देखे और समझे एक गलत फैसला लिया। वेस्टइंडीज की टीम इंडिया टीम के गेंदबाजों के सामने बिखरती हुई नजर आ रही है. 20 ओवर में ही है वेस्टइंडीज की आधी टीम पवेलियन लौट चुकी थी. 16 वे ओवर में कुछ ऐसा हुआ कि जिसको देख कप्तान विराट कोहली और सारा मैदान हैरान हो गया था. महेंद्र सिंह धोनी विराट कोहली के सामने आए और उनको रिव्यू लेने के लिए बोलते हुए नज़र आये. आइये आइए आपको दिखाते हैं पूरा मामला क्या था- dhoni-review-system

dhoni review system| धोनी ने साबित किया है कि वो बॉस हैं सभी के

dhoni-review-system पहली पारी का 16 वा ओवर रविंद्र जडेजा करा रहे थे और रविंद्र जडेजा की एक शानदार गेंद वेस्टइंडीज के खिलाड़ी सिमरॉन हेटमेयर के पेड पर लगती है. रविंद्र जडेजा काफी तेज अपील करते हैं लेकिन विराट कोहली हैरान थे कि क्यों अंपायर ने इस बल्लेबाज को नॉट आउट दिया है. विराट कोहली रिव्यू नहीं लेने वाले थे लेकिन तुरंत ही जब देखते हैं कि यह महेंद्र सिंह धोनी रिव्यू लेने की जिद कर रहे हैं तो वे समझ जाते हैं कि शायद यहां पर टीम इंडिया को टिकट मिल सकता है और तुरंत विराट कोहली देख ले लेते हैं. dhoni-review-system रिव्यू में जो हुआ उसको देखकर हर कोई हैरान था क्योंकि अंपायर ने मैदान पर उपस्थित अंपायर का फैसला गलत साबित करते हुए टीम इंडिया को और रविंद्र जडेजा विकेट दिला दी थी लेकिन यह विकेट निश्चित रूप से महेंद्र सिंह धोनी के खाते में जाता है जिन्होंने कितनी चालाकी से यह पहचान लिया कि अंपायर से गलती हो रही है.

0 Comment

2019 विश्वकप: इंडियन क्रिकेट टीम में वर्ल्ड कप के लिए इन 5 तेज गेंदबाजों का हो सकता है चयन

2019 विश्वकप- इस वर्ष 50 ओवरों का विश्व कप खेला जाने वाला है। बता दें कि यह विश्व कप इंग्लैंड और वेल्स में खेला जाएगा जिसमें 10 टीमें भाग लेकर 48 मैच खेलेगी। साथ ही आपको यह भी बता दें कि पहला मैच 30 मई को और फाइनल 14 जुलाई को होगा। भारतीय टीम 5 जून को दक्षिण अफ्रीका के साथ खेलेगी।


इस विश्व कप में आयरलैंड तथा जिंबाब्वे की टीम भाग नहीं ले रही है और काफी समय बाद ऐसा देखने को मिला है जब यह दोनों टीमें विश्व कप में नहीं खेलेगी। आज हम बात करेंगे भारतीय टीम के पांच तेज गेंदबाजों के बारे में जो इस आगामी विश्व कप में अपनी जगह पक्की कर सकते हैं। तो चलिए देखते हैं उन गेंदबाजों के बारे में।


- 5 तेज गेंदबाज जिन्हें मिल सकता है 2019 विश्वकप में भारतीय टीम में मौका



1. जसप्रीत बुमराह


दाएं हाथ के युवा 25 वर्षीय जसप्रीत बुमराह आज भारतीय टीम के सबसे अहम तेज गेंदबाज बनकर उभरे हैं। बुमराह ने सिर्फ 44 वनडे मैच खेले हैं और 78 विकेट अभी तक ले चुके हैं। वहीं का बेस्ट बॉलिंग स्पेल 27 रन देकर पांच विकेट रहा है। इस कारण आगामी विश्व कप में बुमराह को मुख्य तेज गेंदबाज के रूप में देखा जा रहा है।




2. भुवनेश्वर कुमार


जसप्रीत बुमराह के साथी तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार भी आज लगातार भारतीय टीम में खेलते आ रहे हैं। भूवी ने अब तक 99 वनडे मैच खेले हैं और 107 विकेट चटकाए जिस कारण जसप्रीत बुमराह के साथ उनका खेलना तो लगभग पक्का ही माना जा रहा है।




3. मोहम्मद शमी


उत्तर प्रदेश के मोहम्मद शमी जो टेस्ट क्रिकेट में तो शानदार प्रदर्शन करते आ ही रहे थे लेकिन अब वनडे क्रिकेट में भी पुनः वापसी की है और शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। बता दें कि शमी जिन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले वनडे मैच में 19 रन देकर तीन विकेट लिए और उन्हें मैन ऑफ द मैच भी दिया गया। इस कारण अब यह भी तय माना जा रहा है कि भूवी और जसप्रीत बुमराह के अलावा मोहम्मद शमी भी इस विश्वकप में फिर से जगह बना सकते हैं।




4. खलील अहमद


राजस्थान के युवा तेज गेंदबाज खलील अहमद जो एक उभरते तेज गेंदबाज है। खलील ने 7 वनडे मैच खेले हैं और 11 विकेट ले चुके हैं। इसके अलावा 6 टी-20 मैचों में छह विकेट अपनी झोली में डाल चुके हैं। इस कारण उम्मीद जताई जा रही है कि खलील अहमद को भी विश्व कप में एक तेज गेंदबाज के रूप में शामिल किया जाए।




5. उमेश यादव


दाहिने हाथ के अनुभवी तेज गेंदबाज उमेश यादव ने भारतीय टीम के लिए 75 वनडे मैच खेले हैं जिसमें जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए 106 विकेट लिए हैं। उमेश यादव भी इस विश्व कप में अपनी जगह पक्की कर सकते है।


तो खैर अब देखा जाएगा कि इन 5 में से किन-किन को मौका दिया जाता है या सभी को इंडिया में जगह दी जाती है यह तो समय ही बताएगा।


यह भी जरूर पढ़ें- आईसीसी वर्ल्ड कप 2019: 5 सर्वश्रेष्ठ टीम जो जीत सकती है 2019 का क्रिकेट विश्वकप

0 Comment

भारत के प्रमुख क्रिकेट खिलाड़ी, इनके बिना अधूरा है भारतीय क्रिकेट का पूरा इतिहास

भारतीय क्रिकेट टीम जो आज दुनिया की सबसे खतरनाक टीम बनकर उभरी है क्योंकि आज इस टीम में कई ऐसे धुरंधर हैं जो लगातार अपनी खतरनाक बल्लेबाजी और गेंदबाजी से जीताते आ रहे हैं। आज हम इसी कड़ी में बात करेंगे कि आखिर टीम इंडिया का सबसे अच्छा खिलाड़ी कौन है। यह सवाल जरूर मुश्किल है लेकिन अक्सर सोशल मीडिया पर भी पूछा जाता है और लोग गूगल पर भी सर्च करते हैं कि भारत का सबसे महान खिलाड़ी कौन है। तो चलिए डालते हैं एक नजर इस मुश्किल सवाल पर।


भारत के प्रमुख क्रिकेट खिलाड़ी



सचिन तेंदुलकर


क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के सबसे महान खिलाड़ियों में से एक हैं। तेंदुलकर का जन्म 1973 में हुआ था और पहला मैच 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ खेला था। इसके बाद उन्होंने अपने पूरे करियर में 200 टेस्ट खेले जिसमें 15921 रन ठोके। तेंदुलकर ने इस दौरान कुल 68 अर्धशतक और 51 शतक बनाए। वहीं अगर वनडे की बात करें तो 463 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 18426 रन बनाये जिसमें एक दोहरा शतक भी शामिल है।


तेंदुलकर दुनिया के एकमात्र ऐसे बल्लेबाज हैं जिनके नाम 100 अंतरराष्ट्रीय शतक है। वहीं अगर उनकी महानता की बात करें तो यह भारत के सबसे महान खिलाड़ी इसलिए हैं क्योंकि इन्होंने क्रिकेट का हर बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम किया है।




महेंद्र सिंह धोनी


इस सूची में हमारे अनुसार महेंद्र सिंह धोनी का नाम दूसरे स्थान पर आता है। धोनी एक विकेटकीपर बल्लेबाज हैं जिन्होंने कठिन संघर्ष के साथ भारतीय टीम में जगह बनाई थी। पहले यह रेलवे में टीटी का काम करते थे। करियर पर नजर डालें तो 90 टेस्ट मैचों में धोनी के बल्ले से 4876 रन निकले। जबकि वनडे में अब तक 337 मैचों में कुल 10414 रन बना चुके हैं। धोनी आज भी भारत के सबसे ज्यादा पसंद किए जाने वाले खिलाड़ी है।



कपिल देव


भारतीय क्रिकेट टीम को पहली बार विश्व कप जिताने वाले कपिल देव जिनका जन्म 1959 चंडीगढ़ में हुआ था। कपिल देव एक ऑलराउंडर रहे हैं जिन्होंने टीम इंडिया के लिए 131 टेस्ट मैच खेले जिसमें 5248 रन और 484 विकेट लिए। जबकि 225 वनडे मैचों में 3783 रन बनाए और 253 विकेट लिए थे। वर्तमान यह दिग्गज कमेंट्री करते है।


इस प्रकार हमारे अनुसार सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी और कपिल देव भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे अच्छे खिलाड़ी हैं। हालांकि वर्तमान समय में विराट कोहली, रोहित शर्मा, शिखर धवन, जसप्रीत बुमराह और रविचंद्रन अश्विन जैसे खिलाड़ी भी काफी जबरदस्त क्रिकेट खेल रहे हैं और आने वाले समय में जरूर कोई बड़ा कारनामा करेंगे।


यह भी जरूर पढ़ें- विश्वकप 2019: इंडियन टीम में नंबर 6 पर इन 3 महान बल्लेबाजों में से कोई एक करेगा बल्लेबाजी

0 Comment

5 फेमस और टेलेंटेड क्रिकेटर खिलाड़ी जिन्होंने बहुत ही छोटी यानि कच्ची उम्र में अपनी शादी कर ली थी

भारतीय क्रिकेट टीम के वर्तमान कप्तान विराट कोहली जिन्होंने पिछले साल इसी महीने बॉलीवुड की लोकप्रिय अभिनेत्री अनुष्का शर्मा से शादी की थी. उस समय कोहली की उम्र महज 29 साल थी लेकिन क्या आपको पता है कि कई ऐसे भी खिलाड़ी हैं जिन्होंने बेहद कम उम्र में शादी कर दी थी. तो आज हम आपको उन्हीं कुछ बड़े खिलाड़ियों के बारे में बताने वाले हैं जो कम उम्र में शादी करते हुए अपने करियर में आगे बढ़े थे.


इन खिलाड़ियों ने बेहद कम उम्र में कर दी थी शादी | these cricketers got married in early age


1. सचिन तेंदुलकर




क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर जिन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए पूरी दुनिया भर में अपने फैंस बनाए हैं. लेकिन आपको बता दें कि 1990 में सचिन और अंजली के बीच पहली बार मुलाकात हुई और 5 साल की रिलेशनशिप के बाद अंततः 24 मई 1995 को शादी कर ली. उस समय सचिन महज 22 साल के थे जबकि अंजली 28 साल की.


2. कपिल देव




भारतीय क्रिकेट टीम को पहली बार विश्वकप जिताने वाले कपिल देव एक शानदार ऑल राउंडर रहे है. बता दें कि उन्होंने महज 21 साल की उम्र में ही रोमी भाटिया से शादी की थी. साथ ही यह भी बता दे कि दोनों के बीच पहली मुलाकात साल 1978 में हुई थी. याद हो कि इन्हीं की कप्तानी में टीम इंडिया ने 1983 का विश्व कप जीता था.


3. वीरेंद्र सहवाग




भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग जो सचिन तेंदुलकर के बाद वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक बनाने वाले बल्लेबाज है. हालांकि इनके बाद तो रोहित शर्मा ने 3 बार यह कारनामा कर दिया है. लेकिन आपको पता है कि सहवाग जिन्होंने सिर्फ 25 साल की उम्र में ही शादी कर दी थी.


4. सौरव गांगुली




भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे महान कप्तानों में से एक सौरव गांगुली जिन्होंने 1992 में अपना क्रिकेट का करियर शुरू किया था. लेकिन अगर शादी की बात करें तो सिर्फ 24 साल की उम्र में ही गांगुली ने अपनी बचपन की दोस्त डोना रॉय से शादी की थी. इनकी एक बेटी है जिनका नाम सारा है.


5. अहमद शहजाद




पाकिस्तानी सलामी बल्लेबाज अहमद शहजाद जिन्होंने सिर्फ 24 साल की उम्र में शादी की थी. शहजाद को विराट कोहली का डुप्लीकेट भी माना जाता हैं.


इस प्रकार क्रिकेट जगत के इन बड़े और महान खिलाड़ियों ने बेहद छोटी उम्र में ही शादी कर दी. हालांकि उन्होंने अपने करियर को उसी तरह से आगे बढ़ने दिया जिसकी उन्हें खुद आस थी और देश को भी.

0 Comment