आंकड़ों से जानिये कि टेस्ट में कैसा रहा है कप्तान विराट कोहली का ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रदर्शन

आंकड़ों से जानिये कि टेस्ट में कैसा रहा है कप्तान विराट कोहली का ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रदर्शन

टेस्ट में कप्तान विराट कोहली का ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रदर्शन, भारतीय क्रिकेट टीम इन दिनों ऑस्ट्रेलिया के लंबे दौरे पर हैं. बता दें कि आज सीरीज का तीसरा और आखिरी टी-20 मैच सिडनी में खेला गया था जिसमें मेहमान टीम भारत में जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से हराकर सीरीज में एक-एक की बराबरी कर दी. वहीं 6 दिसंबर से चार टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू हो रही है जिसका आखिरी मुकाबला सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर ही 3 से 7 जनवरी 2019 को खेला जाएगा. इस पूरी सीरीज में भारतीय कप्तान विराट कोहली से काफी बड़ी उम्मीदें है.


तो इसी के चलते आज हम बात करने वाले हैं विराट कोहली के ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैचों के बारे में कि अब तक किस प्रकार का प्रदर्शन रहा है और हम यहां कैसी उम्मीद कर सकते हैं, तो आइए एक नजर डालते हैं.




ऐसा रहा है ऑस्ट्रेलिया में विराट कोहली का प्रदर्शन


30 वर्षीय भारतीय कप्तान विराट कोहली जो दिनों दिन शानदार प्रदर्शन करते हुए बड़े-बड़े कारनामे कर रहे हैं. बता दें कि इनका जन्म 5 नवंबर 1988 को हुआ था और हाल फिलहाल यह टेस्ट में इस वर्ष सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भी बल्लेबाज हैं इस कारण ऑस्ट्रेलिया गेंदबाजों के लिए भी कुल मिलाकर कोहली एक सबसे बड़ी परेशानी है.


अगर हम आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर उनके प्रदर्शन पर एक नजर डालें तो सिर्फ आठ टेस्ट मैच खेले हैं और इसकी 16 पारियों में जबरदस्त 62 की औसत से 992 रन बनाए हैं. इस दौरान पांच शतक और 2 अर्धशतक भी बना चुके हैं.




इस प्रकार अगर हम इनके ओवरऑल करियर पर नजर डालें तो उन्होंने 15 बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैच खेला है इस दौरान 50.84 की औसत से 1322 रन बनाए हैं जिसमें 6 शतक और 3 अर्धशतक हैं. कुल मिलाकर देखने को यही मिला है कि ऑस्ट्रेलिया में विराट कोहली का बल्ला खूब जमकर बोलता है और इस बार भारत सीरीज जीत भी सकती है.


Also read


साल 2018 में विराट कोहली के नाम टेस्ट में दर्ज हुआ एक शर्मनाक रिकॉर्ड, देखकर इसको शर्म से कोहली पानी हो जायेंगे


विश्व के 6 खतरनाक बल्लेबाज खिलाड़ी जो साल 2019 में खेल रहे हैं अपना आखरी आईपीएल टूर्नामेंट, 4 नाम भारतीय खिलाड़ियों के हैं


इस सीरीज में पहला मैच 6 से 10 दिसंबर को एडिलेड ओवल में खेला जाएगा. इसके बाद दूसरा पर्थ में 14 से 18 तीसरा मेलबर्न में 26 से 30 दिसम्बर को और आखिरी मुकाबला 3 से 7 जनवरी 2019 को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाने वाला है.

0 Comment

5 भारतीय खिलाड़ी जो कल भारत और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट में भारत की हार और जीत को तय करने वाले हैं

ऑस्ट्रेलिया तथा भारत के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला 6 से 10 दिसंबर तक एडिलेड ओवल क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाने वाला है. बता दें कि इस मैच में पृथ्वी शॉ टीम इंडिया की ओपनिंग करते हुए नजर नहीं आने वाले हैं क्योंकि वह चोटिल होकर इस सीरीज से बाहर हो गए हैं.


वहीं पहला मैच भारतीय समय के अनुसार सुबह काफी जल्दी शुरू होगा, जिसका प्रसारण सोनी के विभिन्न चैनलों पर होने वाला है. आज हम बात करने वाले हैं भारत की खिलाड़ियों के बारे में जो इस पूरी टेस्ट सीरीज में इंडियन टीम के लिए काफी जरूरी हैं लेकिन कल पहले टेस्ट मैच में इनका अच्छा प्रदर्शन करना काफी जरुरी है-


भारत और ऑस्ट्रेलिया पहला टेस्ट मैच एडिलेड



रोहित शर्मा


अनुभवी ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा जो पिछले काफी समय से भारतीय टेस्ट टीम से बाहर रहे हैं. बता दें कि उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जनवरी में खेला था और अब पहले ही मैच में पारी की शुरुआत करते हुए नजर आ सकते हैं.




विराट कोहली


विराट कोहली के पर भी इस टेस्ट मैच में काफी जिम्मेदारी नजर आ रही है. कोहली अगर अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं तो इससे टीम इण्डिया पहले टेस्ट मैच में मुश्किल में आती हुई नजर आ सकती है.




जसप्रीत बुमराह


दाएं हाथ के खतरनाक युवा तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह जिन्होंने इसी वर्ष दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट में डेब्यू किया और धमाल का प्रदर्शन करते हुए अपनी जगह लगभग पक्की कर दी है. हालांकि अब तक 6 ही टेस्ट मैच खेले हैं और आखिरी मुकाबला 30 अगस्त को खेला था.




मुरली विजय

अनुभवी ओपनर बल्लेबाज मुरली विजय जिन्हें इंग्लैंड के दौरे पर शामिल तो किया गया था लेकिन खराब प्रदर्शन के कारण बीच में ही बाहर कर दिया लेकिन अब इनकी वापसी हुई है और टीम इंडिया के लिए कुछ अच्छा कर सकते है.




चेतेश्वर पुजारा


चेतेश्वर पुजारा में काबिलियत है कि वह मैच में दोहरा शतक लगा सकते हैं, पुजारा का शतक या दोहरा शतक इंडियन टीम के लिए काफी जरुरी है. पुजारा भी कल मैच में महत्वपूर्ण खिलाड़ी साबित होंगे.


भारत और ऑस्ट्रेलिया पहले टेस्ट मैच में भारत की प्लेइंग इलेवन


विराट कोहली (कप्तान), केएल राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), रोहित शर्मा, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, आर अश्विन, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा

1 Comments

Prem Parihar
5
0000-00-00 00:00:00

हुआ खुलासा, क्यों महेंद्र सिंह धोनी खुद अब भारत के लिए विश्वकप 2019 नहीं खेलना चाहते हैं?

इसलिए धोनी खुद अब विश्वकप 2019 नहीं खेलना चाहते हैं, टीम इंडिया से बाहर चल रहे महेंद्र सिंह धोनी अब शायद विश्व कप 2019 से भी बाहर होते हुए नजर आ सकते हैं. बेशक यह खबर अभी किसी आधिकारिक स्रोत से नहीं आ रही है लेकिन जिस तरीके से अब धोनी के खिलाफ सीनियर खिलाड़ियों ने अपनी आवाज बुलंद करनी शुरू कर दी है तो उसको देखकर ऐसा ही लगता है कि शायद अब महेंद्र सिंह धोनी टीम इंडिया से हमेशा के लिए बाहर होते हुए नजर आ सकते हैं.


महेंद्र सिंह धोनी की फॉर्म लगातार खराब चल रही है महेंद्र सिंह धोनी बल्ले से रन बनाते हुए नजर नहीं आ रहे हैं. अभी हाल ही में वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई टी20 सीरीज से महेंद्र सिंह धोनी बाहर हैं और अब टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के अंदर टेस्ट सीरीज खेलने वाली है. आइए आपको बताते हैं कि आखिर क्यों महेंद्र सिंह धोनी कप 2019 नहीं खेलना चाहते हैं-


महेंद्र सिंह धोनी का सन्यास


आपको बता दें कि टीम इंडिया के कभी स्टार खिलाड़ी रहे सुनील गावस्कर का ऐसा मानना है कि धोनी अगर टीम इंडिया में नहीं खेल रहे हैं तो शायद उनको घरेलू क्रिकेट खेलना चाहिए था और अगर धोनी घरेलू क्रिकेट से भी दूर है तो ऐसे में किस आधार पर चयनकर्ता इनका चयन विश्व कप 2019 की टीम के लिए कर सकते हैं. लगातार आलोचकों की वजह से दुखी महेंद्र सिंह धोनी अब जल्दी आपको कोई बड़ा कदम उठाते हुए नजर आ सकते हैं.


इससे पहले भी अजीत अगरकर जैसे सीनियर खिलाड़ी ने भी महेंद्र सिंह धोनी की फॉर्म को देखकर उनके ऊपर आरोप लगाते हुए नजर आए हैं. टीम इंडिया की कप्तानी जब धोनी ने छोड़ी थी तो उस समय भी कुछ इसी तरीके के हालात बन रहे थे और चारों तरफ से धोनी के ऊपर आरोप-प्रत्यारोप हो रहे थे. ऐसे में एक बार फिर से तो नहीं कोई बड़ा कदम उठाते हुए नजर आ सकते हैं.


महेंद्र सिंह धोनी लेंगे 2019 में सन्यास


महेंद्र सिंह धोनी समय अपने परिवार के साथ समय बिता रहे हैं और क्रिकेट से वह लगातार दूर हैं. बीच में धोनी टेनिस मैदान पर तो जरूर नजर आए थे लेकिन शायद इनको क्रिकेट के मैदान पर होना चाहिए था.


विश्वकप शुरू होने में अब कुछ ही समय बाकी है और धोनी का इस तरीके से मैदान से बाहर रहना शायद इस तरफ संकेत कर रहा है कि धोनी विश्व कप 2019 में टीम इण्डिया के लिए खेलते हुए नजर ना आए.


यह भी जरूर पढ़ें


दिल्ली डेयरडेविल्स टीम मालिक ने इस ज्योतिष की सलाह पर बदला है आईपीएल में दिल्ली टीम का नाम


1 Comments

Nitesh Kumar
Dhoni is the best dangerous plyer in the world nobody replace him.
0000-00-00 00:00:00

हार्दिक पंड्या के लिए मुसीबत बना ये बायें हाथ का खिलाड़ी, खत्म कर देगा अब ये हार्दिक पंड्या का क्रिकेट करियर

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच इन दिनों तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेली जा रही थी. जिसके आखिरी मैच में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 2 गेंद तथा 6 विकेट शेष रहते हुए जीत हासिल कर दी है. इस प्रकार यह सीरीज दोनों ही टीमों के बीच बराबर रही क्योंकि दूसरा मुकाबला बारिश की वजह से रद्द हो गया था. अब चार टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू होने वाली है. वहीं आज हम बात करने वाले हैं हार्दिक पांड्या के बारे में जिनके लिए एक ऑलराउंडर मुसीबत बनता जा रहा है.


सबसे पहले आपको इस मैच के बारे में अगर बताएं तो इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया. जिसके बाद डार्सी शॉर्ट और आरोन फिंच ने शानदार शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 68 रन जोड़े. लेकिन उसके बाद युवा ऑलराउंडर क्रुणाल पांड्या ने शानदार गेंदबाजी करते हुए पहली बार टी-20 इंटरनेशनल में 4 विकेट लिए. हालांकि आखिरी के ओवरों में नाथन कूल्टर नाइल तथा मार्कस स्टोइनिस ने खतरनाक बल्लेबाजी करते हुए भारत को 165 रनों का लक्ष्य दे डाला.




जवाब में टीम इंडिया की भी शुरुआत बेहद खतरनाक रही और पहले विकेट के लिए 67 रन जोड़े हालांकि दूसरा विकेट भी 67 रन पर ही रोहित शर्मा के रूप में गिर गया था. लेकिन इसके बाद विराट कोहली जो आज तीसरे नंबर पर आए और जबरदस्त बल्लेबाजी की और नाबाद 41 गेंदों का सामना करते हुए 61 रन बनाए और भारत को जीत दिलाई.


हार्दिक पांड्या के लिए मुसीबत बन सकता है यह युवा ऑलराउंडर




अब आप लोग सोच रहे होंगे कि आखिर वह कौन है युवा ऑलराउंडर जो हार्दिक पांड्या के लिए मुसीबत बन सकता है. दरअसल हार्दिक पांड्या जिन्हें भारत का दूसरा कपिल देव माना जाता है लेकिन इन दिनों वह बाहर हैं क्योंकि एशिया कप में चोटिल होने की वजह से उनको आराम दिया गया था.


Also Read-


आंकड़ों से जानिये कि टेस्ट में कैसा रहा है कप्तान विराट कोहली का ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ प्रदर्शन


11 महीने बाद इन 2 भारतीय खिलाड़ियों की हुई इंडियन टेस्ट टीम में वापसी, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलेंगे पहला टेस्ट मैच


तो खैर अब बता ही देते है लेकिन इतना भी मत सोचिये क्योंकि वह युवा ऑलराउंडर कोई और नहीं बल्कि उनके बड़े भाई क्रुणाल पांड्या है. जी हां, क्रुणाल पंड्या जो पिछले कुछ मैचों से भारतीय टीम में खेलते आ रहे हैं और शानदार प्रदर्शन करते हुए अपनी जगह लगभग पक्की कर रहे हैं. इन्होंने अब तक 6 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं जिसमें छह विकेट लिए है. अब देखने वाली बता यही होगी कि जब छोटा भाई फिट हो जाएगा तो किसे मौका मिलेगा.

1 Comments

Abhi Singh Rajpoot
Top
0000-00-00 00:00:00