इंडियन क्रिकेट टीम का ऐसा खिलाड़ी जो बारहवीं पढ़ने के बाद मजदूरी करते-करते बना क्रिकेटर, दो वक़्त की रोटी खाने के लिए भी कभी पैसे नहीं बचे थे

इंडियन क्रिकेट टीम का ऐसा खिलाड़ी जो बारहवीं पढ़ने के बाद मजदूरी करते-करते बना क्रिकेटर, दो वक़्त की रोटी खाने के लिए भी कभी पैसे नहीं बचे थे

Umesh yadav biography in hindi- इंडियन टीम के सबसे तेज गेंदबाज उमेश यादव आज टीम की रीड की हड्डी है. कहा जाता है कि उमेश यादव तेज गेंदबाजों में से एक है. जिसका प्रमाण आप खुद कई मैचों से देख सकते हैं. उमेश यादव ने अपनी पहचान सबसे तेज गेंदबाज के रुप में बनाई है और उनके द्वारा फेंकी गई सबसे तेज गेंद की गति 154.8 kmph बताई जाती है औसतन वह 140 kmph गेंद डालते हैं.


उमेश यादव ने 12वीं के बाद पढ़ाई नहीं की. जानकर थोड़ा आश्चर्य होगा कि भारत टीम के सबसे तेज गेंदबाज ने कभी अपनी ग्रेजुएशन तक पूरी नहीं की. आपके मन में सवाल तो जरूर आया होगा कि आखिर क्या कारण होगा जिसके वजह से उमेश यादव ने अपनी पढ़ाई पूरी नहीं की? तो आइये आज हम आपको umesh yadav biography hindi me में बताते हैं-


Umesh Yadav biography cricketer | उमेश यादव की बायोग्राफी




तो हम आपको बता दें कि उमेश यादव की घर की हालत इतनी बुरी थी कि उन्हें पढ़ाई छोड़ कर काम ढूंढना पड़ा. घर की परिस्थिति ठीक ना होने के कारण उमेश यादव ने अपने पिता के साथ एक समय मजदूरी भी की थी. लेकिन एक क्रिकेटर बनने का हौसला और जज्बा उनका कभी भी खत्म नहीं हुआ. उमेश यादव के पिता चाहते थे कि वह कोई सरकारी नौकरी करें ताकि घर का गुजारा हो सके लेकिन उमेश यादव और उनके तकदीर को मानो कुछ और ही मंजूर था.


उमेश यादव ने सरकारी नौकरी पाने की कोशिश तो की लेकिन असमर्थ रहे. जिसके बाद उन्होंने क्रिकेटर बनने का सपना अपने पिता को बताया. यह बात जानकर उनके पिता ने उमेश यादव को पूरी तरीके से सपोर्ट किया. साल 2008 में उमेश यादव को रणजी ट्रॉफी खेलने का मौका मिला.





फिर आईपीएल 2010 में दिल्ली डेयरडेविल्स ने 18 लाख में खरीदा. 2010 में वनडे और 2011 में फर्स्ट डेब्यू किया. जिसमें उमेश यादव ने अपना बेहतर प्रदर्शन दिखाया. इस तरह से उमेश यादव नागपुर के छोटे गांव खेड़ा से निकलकर भारत के टीम के लिए चुने गए.



उमेश यादव का क्रिकेट करियर | नवंबर 2018 तक के रिकार्ड्स


टेस्ट

40 टेस्ट खेले

277 रन

117 विकेट लिए

3.58 इकनॉमी

वनडे

75 वनडे

79 रन

106 विकेट

6.01 इकनॉमी

टी20 / आईपीएल भी

136 टी20

130 रन बनाये

146 विकेट

8. 19 इकनॉमी








उमेश यादव का सफर भले ही मुश्किल भरा हो लेकिन उन्होंने कभी भी आस नहीं छोड़ी और आज आप देख सकते हैं कि उमेश यादव उस मुकाम पर खड़े हैं जहां पर होने का वह कभी सपना देखा करते थे. उमेश यादव के निजी जिंदगी के बारे में अगर बात करें तो उनकी शादी एक मैकेनिकल इंजीनियर लड़की से हुई जिसका नाम तानिया वाधवा है.




साल 2010 में जब वह दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेल रहे थे उस दौरान उनकी मुलाकात तान्या से हुई. दोनों की दोस्ती बढ़ती चली गई और फिर साल 2012 में उमेश ने तानिया को प्रपोज कर दिया. उसके बाद 2013 में उमेश ने तानिया से शादी कर ली. उमेश यादव की खास बात यह है कि वह जब भी क्रिकेट से तो वह अपने जन्म स्थान नागपुर जरूर जाते हैं. वहां जाकर आज भी वह अपने पिता का हाथ बटाते हैं. इससे मालूम होता है कि वह आज भी जमीन से जुड़े हुए हैं. आपको उमेश यादव कैसे लगते हैं हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं.

0 Comment