2 गेंदों पर तूफानी 21 रन ठोकने वाला दुनिया का इकलौता बल्लेबाज, नाम जानकर आप भी हो जाएंगे खुश | cricket world record 21 runs in 2 balls

2 गेंदों पर तूफानी 21 रन ठोकने वाला दुनिया का इकलौता बल्लेबाज, नाम जानकर आप भी हो जाएंगे खुश | cricket world record 21 runs in 2 balls

cricket world record 21 runs in 2 balls इंडियन क्रिकेट टीम के ऐसे कई महान बल्लेबाज हैं जिन्होंने अपने दौर के समय में अनेक प्रकार के रिकॉर्ड बनाये है, जो किसी दूसरे बल्लेबाज के लिए तोड़ पाना मुश्किल होगा. ऐसा ही एक रिकॉड है जिसको कोई बल्लेबाज ही तोड़ पाया. यह रिकॉर्ड उस भारतीय बल्लेबाज ने कायम किया जिसकी बल्लेबाज़ी से सारे देशों की टीम के गेंदबाज डरते थे. जिन्होंने मात्र केवल 2 गेंद ही खेलकर 21 रन बना दिए थे. आप ये सोच रहे होंगे कि 1 गेंद पर ज्यादा से ज्यादा 6 रन ही बन सकते है फिर 2 गेंद पर 21 रन कैसे बन गए.

मुल्तान के सुल्तान नाम से अपना लोहा बनवा चुके भारतीय टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने यह कारनामा कर दुनियाभर में अपने नाम का डंका बजा दिया. सहवाग ने वैसे तो अपने नाम अनेक रिकॉर्ड  किये है लेकिन यह कारनामा इन्होने वर्ष 2004 में पाकिस्तान के विरुद्ध खेलते हुए किया.


# cricket world record 21 runs in 2 balls | सहवाग ने बनाये 2 बॉल पर 21 रन

वीरेंद्र सहवाग ने पाकिस्तान के राणा नावेद के ओवर में यह रिकॉर्ड बनाया था, जब नावेद टीम का 11वाँ ओवर लेकर आये तो राणा ने अपनी पहली गेंद नों बॉल कर दी. उसी गेंद पर सहवाग ने गेंद को 4 रनों के लिए सीमा रेखा बहार निकाल दिया.

अगली गेंद भी नावेद ने नों बोल कर डाली वीरेंद्र सहवाग ने फिर उस पर एक शानदार चौका लगाकर बहार का रास्ता दिखा दिया. कहते है न जब किसी की किस्मत खराब हो तो कुछ भी कर लो कुछ सही नहीं होगा. यही राणा नावेद के साथ हुआ. तीसरी भी नों बोल कर दी. बिना किसी गेंद के भारत ने 11 रन अर्जित कर लिए थे.


जब नावेद ने चौथी गेंद डाली तो वो डॉट बाल के रूप में  निकल गयी जिसपर कोई रन नहीं आया लेकिन राणा ने फिर नो बॉल कर डाल जिस पर सहवाग ने एक चौका और लगा दिया. नावेद का वो दिन बेहद खराब था.

अगली गेंद भी नो बॉल निकली और फिर सहवाग ने चार रनों के लिए उससे बाहर का रास्ता दिखा दिया. इसी तरह से सहवाग ने 2 गेंदों पर 21 रन बना दिए. सहवाग यह रिकॉर्ड बनाने वाले दुनिया के एक मात्र बल्लेबाज है, जिसको आज तक कोई भी बल्लेबाज तोड़ नही पाया है.

0 Comment

5 भारतीय यंग बल्लेबाज जो 2019 में दोहरा शतक, 200 रन बनाते हुए नजर आयेंगे, इन युवाओं पर रहने वाली है सभी की नजर

विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया इन दिनों शानदार फॉर्म हैं. इंग्लैंड दौरे पर भी टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया हैं टी-ट्वेंटी में 2-1 की शानदार जीत के बाद टीम इंडिया ने वनडे सीरीज की शुरुआत भी अच्छे से की थी, लेकिन दुर्भाग्यवश टीम को 2-1 की हार झेलनी पड़ी थी. अब टीम इण्डिया आस्ट्रेलिया के दौरे पर, जहाँ टीम को अब टेस्ट सीरीज शुरू होने का इन्तजार है.

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और अन्य कई बड़े क्रिकेटर व्यस्त क्रिकेट कार्यक्रम की कई बार शिकायत करते हैं, जिसके कारण खिलाड़ियों को बीच में आराम देकर अन्य कुछ नए चेहरों को मौका दिया जाता हैं. इस लेख में हम 5 ऐसे खिलाड़ियों की बात करेगे, जो वर्ष 2019 में भारत के लिए वनडे क्रिकेट में नए विश्वकीर्तिमान बना सकते हैं-



1) पृथ्वी शॉ

युवा बल्लेबाज़ पृथ्वी अनुभव के साथ-साथ लगातार अपनी बल्लेबाजी सुधार कर रहे हैं. शॉ एक सलामी है और मुंबई के कुछ घरेलू सीजन भी खेल चुके हैं. बतौर कप्तान टीम इंडिया को अंडर19 वर्ल्डकप जिताने के बाद उन्होंने आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेलते हुए बेहद शानदार प्रदर्शन किया था.

पृथ्वी शॉ ने भारत ए की टीम की ओर से खेलते हुए इंग्लैंड दौरे पर भी अपनी बल्लेबाजी से सभी को काफी प्रभावित किया था. शॉ ने बेहद कम में उम्र में दिखाया है, वह भविष्य में टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व कर सकते है.




2) मयंक अग्रवाल

मयंक अग्रवाल घरेलू स्तर पर शानदार बल्लेबाजी करते हुए रनों का अंबार लगा रहे हैं. कर्नाटक के बल्लेबाज़ मयंक अग्रवाल ने घरेलू क्रिकेट के सीजन के सभी फॉर्मेट में रिकॉर्ड बनाते हुए 2141 रन बनायें थे. विजय हजारे घरेलू वनडे क्रिकेट टूर्नामेंट में मयंक ने रिकॉर्ड 723 रन बनाये थे. हाल में इंग्लैंड में इंग्लैंड लायंस और वेस्टइंडीज ए के विरुद्ध भी मयंक ने दमदार प्रदर्शन की थी. अग्रवाल उन खिलाड़ियों में शामिल है, जो जल्द ही टीम इंडिया के डेब्यू कर सकते हैं.



3) शुभमन गिल

18 वर्षीय बल्लेबाज़ शुभमन गिल अंडर19 वर्ल्डकप 2018 में अपने शानदार पारियों के बाद सुर्खियों में आये थे. जिसके बाद उन्होंने आईपीएल में कोलकाता नाईट राइडर्स ने करोडो रूपए में ख़रीदा. गिल एक उपरीक्रम बल्लेबाज़ है जोकि बतौर या नंबर 3 पर बल्लेबाज़ी करते हैं, लेकिन उन्होंने आईपीएल के दौरान मध्यक्रम में बल्लेबाज़ी करके टीम इंडिया में अपनी दावेदार पेश कर दी हैं. गिल ने अपने लिस्ट ए करियर के 20 मैचो में 40.38 की औसत से 727 रन बनायें हैं.



4) क्रुनाल पंड्या


क्रुनाल पंड्या भारत की सबसे चर्चित घरेलू लीग आईपीएल में लगातार अच्छा प्रदर्शन करते आ रहे हैं. जिसके बाद जल्द ही चयनकर्ता उन्हें अन्तराष्ट्रीय स्तर पर खुद को साबित करने का एक मौका दे सकते हैं. भारत ए के लिए इंग्लैंड दौरे पर अच्छा प्रदर्शन करने के बाद उन्हें इंग्लैंड के विरुद्ध टी-ट्वेंटी में चुना गया था. अगर क्रुनाल अगले आईपीएल में एक बार फिर से अपना करिश्मा दिखाने में कामयाब होते है तो वह टीम इंडिया के लिए वनडे क्रिकेट खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं.



5) ऋषभ पंत

इस सूची में शामिल किये गए खिलाड़ियों में से ऋषभ पंत शायद सबसे पहले वनडे क्रिकेट में डेब्यू कर सकते है. पंत को एमएस धोनी का उतराधिकारी माना जा रहा हैं. जबकि घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के कारण वह लगातार चयनकर्ताओं की रिडार में हैं.


Also Read

5 भारतीय युवा खिलाड़ी जिनका विश्वकप 2019 के लिए इंडियन टीम में हो सकता है चयन, एक खिलाड़ी तो सचिन और विराट के रिकार्ड्स तोड़ेगा

परिवार के मना करने और लोगों के हसनें पर भी झूलन गोस्वामी ने कभी हार नहीं मानी, पापा से बोला था मैं क्रिकेटर बनकर दिखाऊंगी पापा


आईपीएल के 14 मैचो में रिकॉर्ड 684 रन बनाने के बाद पंत ने भारत ए टीम के लिए इंग्लैंड में भी अच्छा किया हैं. जिसके बाद उन्हें इंग्लैंड के विरुद्ध खेली जाने वाली 5 मैचो की टेस्ट सीरीज के लिए टीम में चुना गया हैं. तो इस तरह से यह 5 युवा खिलाड़ी आपको साल 2019 में इंडियन टीम के लिए नए रिकॉर्ड बनाते हुए नजर आ सकते हैं.

0 Comment

इन 3 क्रिकेट रिकार्ड्स को इंडियन टीम के कप्तान विराट कोहली भी कभी नहीं तोड़ पायेंगे

भारतीय क्रिकेट टीम के वर्तमान कप्तान विराट कोहली जो अभी 30 साल के हो चुके हैं. बता दें कि इनका जन्म 5 नवंबर 1988 को दिल्ली में हुआ था. यह टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज हैं और दाहिने हाथ से बैटिंग करते हैं. कोहली बेहद कम समय में कई बड़े-बड़े रिकॉर्ड बनाए हैं और लगातार बनाते जा रहे हैं. लेकिन आज हम उन रिकॉर्ड के बारे में बात करने वाले हैं जो संभवत विराट कोहली अपने पूरे करियर में कभी नहीं बना पाएंगे. तो आइये बताते हैं उन रिकॉर्ड के बारे में विस्तार से.


3 records Virat Kohli can never break | इन रिकार्ड्स को विराट कोहली भी कभी नहीं तोड़ पायेंगे



1. वनडे में 264 रन


वर्तमान टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली जिनको रन मशीन कहा जाता है क्योंकि यह साल 2018 में अब तक सबसे ज्यादा टेस्ट और वनडे में रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं और पिछले कुछ समय में लगातार बड़े रिकॉर्ड बनाते आये है. अगर उनके करियर पर नजर डालें तो 216 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 59.83 की औसत से 10232 रन बनाए जिसमें 38 शतक और 48 फिफ्टी है. जबकि बेस्ट स्कोर की अगर बात करें तो इनका 183 है. वहीं साथी बल्लेबाज रोहित शर्मा का सर्वाधिक स्कोर 264 है जो कि पूरे विश्व में सबसे बड़ा स्कोर है. इस प्रकार कोहली रोहित का यह रिकॉर्ड अपने पूरे करियर में नहीं तोड़ पाएंगे क्योंकि देखा गया है कि यह बनाते ही जल्द-जल्द आउट हो जाते हैं.




2. टेस्ट की एक पारी में 400 रन


वहीं अगर विराट कोहली के टेस्ट करियर की बात करें तो 73 मैचों की 124 पारियों में 54.57 की औसत से 6331 रन बना दिए हैं जिसमें उनके 24 शतक और 19 अर्धशतक है. वहीं इसमें कोहली का बेस्ट स्कोर 247 रन है. टेस्ट क्रिकेट में यह भी बाकी बल्लेबाजों की शायद ही कभी ब्रायन लारा के 400 रनों का रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाएंगे.




3. टी-20 क्रिकेट में शतक


भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा आज दुनिया के ऐसे पहले बल्लेबाज हैं जिनके नाम टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट प्रारूप में सबसे ज्यादा शतक हैं. वहीं अगर कप्तान कोहली की बात करें तो यह अब तक एक बार भी शतक नहीं बना पाए हैं. जबकि एक मर्तबा नाबाद 90 रनों की पारी खेली थी. तो हम यही मान सकते है कि यह अपने पूरे करियर में रोहित शर्मा को शतकों के मामले में पीछे नहीं छोड़ पाएंगे.


Also Read

Most Sixes in IPL 2019- 5 बल्लेबाज तो आईपीएल 2019 के अंदर लगा सकते हैं टूर्नामेंट के सबसे ज्यादा छक्के, इनकी बाजुओं में है काफी दम


तो विराट कोहली अपने पूरे करियर में कई बड़े-बड़े रिकॉर्ड भले ही बना चुके हो और बनाते जा रहे हो लेकिन यह 3 रिकॉर्ड शायद ही कभी तोड़ पाएंगे.

1 Comments

nice play..rohit...sharma
0000-00-00 00:00:00

2019 विश्वकप में इन मैदानों पर भारत को मिल सकती हैं हार, इंडियन क्रिकेट टीम का रिकॉर्ड यहाँ आप खुद देख लो

विश्वकप 2019 अब धीरे-धीरे नजदीक आ रहा है. बता दें कि इस बार इसका आयोजन इंग्लैंड और वेल्स में किया जाने वाला है जिसका पहला मुकाबला 30 मई को इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच लॉर्ड्स के ऐतिहासिक क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाएगा. वहीं फाइनल मैच भी इसी मैदान पर 14 जुलाई को होगा. इस महासंग्राम में कुल 10 टीमें भाग लेंगी और 48 मुकाबले खेले जाएंगे.

अगर भारतीय टीम के बारे में बात करें तो पहला मैच दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 5 जून को द रोज बॉल क्रिकेट ग्राउंड पर खेलने वाली है. आज हम बात करने वाले हैं उन मैदानों के बारे में जहां पर भारतीय टीम को हार का स्वाद चखना पड़ सकता है.


2019 विश्वकप में इन मैदानों पर भारत को मिल सकती हैं हार



द रोज बॉल क्रिकेट ग्राउंड


इंग्लैंड के साउथहैंपटन में स्थित रोज बॉल क्रिकेट ग्राउंड जहां पर भारत ने अब तक दो वनडे मैच खेले हैं और इन दोनों मैचों में हार का सामना करना पड़ा है. बता दें कि सबसे पहले 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया को 114 रनों से शिकस्त झेलनी पड़ी. जबकि दूसरी बार 2011 में इंग्लैंड की टीम ने 7 विकेट से हराया था. इस प्रकार इस महा संग्राम में भारतीय टीम को यहां पर अच्छा प्रदर्शन करना होगा नहीं तो पहले ही मैच में अफ्रीका के हाथों हार का सामना करना पड़ सकता है.



ओल्ड ट्रैफर्ड क्रिकेट ग्राउंड


विश्व कप 2019 में भारत का मुकाबला पाकिस्तान से 16 जून को ओल्ड ट्रैफर्ड क्रिकेट ग्राउंड, मैनचेस्टर में खेला जाएगा. लेकिन इस मैदान पर भी टीम इंडिया का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है क्योंकि 4 वनडे मैचों में 3 बार हार का सामना करना पड़ा है. जबकि एकमात्र मैच जीतने में कामयाब रही है वह मुकाबला 1983 विश्व कप में 4 विकेट से जीता था.



हेडिंग्ले


इस विश्वकप में श्रीलंका के खिलाफ टीम इंडिया का आखिरी मुकाबला जो 6 जुलाई को हेडिंग्ले क्रिकेट ग्राउंड लीड्स में खेला जाएगा. लेकिन इस मैदान पर भी भारत का प्रदर्शन काफी शर्मनाक रहा है क्योंकि अब तक यहां सात मैच खेले गए जिसमें से पांच मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा है और सिर्फ दो मैच ऐसे रहे हैं जिसमें भारत को जीत मिली है.


इस प्रकार भारतीय टीम को इस बड़े टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करने की काफी जरूरत है नहीं तो हार का सामना करते हुए बाहर होना पड़ेगा.

0 Comment