5 ऐसे भारतीय बल्लेबाज जिन्होनें एक साल में दो बार बनाये हैं वऩडे में 150 रन, कमाल के ये भारतीय बल्लेबाज आज भी याद आते हैं

5 ऐसे भारतीय बल्लेबाज जिन्होनें एक साल में दो बार बनाये हैं वऩडे में 150 रन, कमाल के ये भारतीय बल्लेबाज आज भी याद आते हैं

5 indian Batsmen with most 150+ scores in ODIs single year- एक दिवसीय अंतर्राष्टीय क्रिकेट उन टीमों के मध्य खेला जाता हैं, जिनको आईसीसी द्वारा सद्स्यता दी जाती हैं और सम्मानित किया जाता हैँ . एक दिवसीय अंतर्राष्टीय क्रिकेट में प्रत्येक पारी 50 ओवर की होती हैं, शुरूआती बल्लेबाजों को टीम की रीढ समझा जाता हैं.

टॉप ऑर्डर के  बल्लेबाजों के पास खेलने का ज्यादा समय होता हैं, जिसके कारण वो बडा स्कोर खडा कर सकते हैं. एक साल में दो बार 150 रन बनाने वालो की सूची में नया नाम तूफानी बल्लेबाज रोहित शर्मा का जुड़ गया है. आइए ऐसे ही कुछ खिलाडियों के नाम जानते है जो एक साल मेँ 2 बार 150 से  ज्यादा का स्कोर बना चुके हैं-




# सौरव गांगुली

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली का आता हैं, गांगुली एक साल में दो बार 150 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बने. 1999 के आईसीसी  विश्वकप में श्रीलंका के खिलाफ गांगुली ने 183 रन बनाए. गांगुली को इस मैच में मैन ऑफ द मैच से नवाजा गया.

उस मैच में भारतीय टीम ने कुल 373 रन बनाए. रॉबिन सिंह की घातक गेंदबाजी के दम से श्रीलंका टीम को कुल 216 रनों पर समेट दिया गया, इस मैच में श्रीलंका की 157 रनों से ब़डी हार हुई. उसी साल सौरव का दूसरा 150 न्यूजीलैंड टीम के खिलाफ  नवंबर-11-1999 को ग्वालियर में था. इस मैच मे गांगुली ने नाबाद 155 रन की पारी खेली. भारतीय टीम ने यह मैच बडी आसानी से जीत लिया, और सौरव को मैन आँफ द मैच के खिताब से नवाजा गया.


# गौतम गंभीर

 2009 में गौतम गंभीर ने अपना पहला 150 5 फरवरी को कोलंबो में बनाया था. उस समय भारत ने श्रीलंका का दौरा किया था. मुथैया मुरलीधरन ने उस मैच मे गंभीर को आउट किया था. भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 332 रन बनाए. श्रीलंका को 265 रनों पर समेट दिया गया, और भारत ने यह मैच 67 रनों से जीत लिया. गंभीर को  प्लेयर ऑफ द मैच से नवाजा गया.

उसी वर्ष श्रीलंका ने भारत का दौरा किया, गंभीर ने कोलकाता के मैदान पर 24 दिसंबर को श्रीलंका के खिलाफ अपना दुसरा 150 मारा. गंभीर ने इस मैच में नाबाद 150 रन बनाए और भारतीय टीम को सफलतापूर्वक 316 के लक्ष्य का पीछा करने में मदद की. इस मैच मे गंभीर को मैन ऑफ द मैच मिला. विराट कोहली ने भी उस मैच में शतक मारा था, कोहली की बल्लेबाजी को देखते हुए, गंभीर ने अपना पुरस्कार विराट कोहली को सौंप दिया. जिसके लिए उनकी काफी सराहना की गई.


# सचिन तेंदुलकर

2009 में एक दिवसीय मैचो मे 150 रन बनाने वाले दुसरे बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर है.  2009 में उनका पहला 150 मार्च 8 को न्यूज़ीलैंड के खिलाफ था. इस पारी में सचिन ने 163 रन बनाए, सचिन को उस मैच मे मैन ऑफ द मैच दिया गया. इस मैच में भारत ने 50 ओवरों में 392 रन बनाए. हरभजन सिंह, युवराज और जहीर खान ने इस मैच में दो-दो विकेट लिए. न्यूजीलैंड इस मैच मे 58 रन से हार गया था.

उसी साल सचिन ने दूसरी 150 रनो की पारी 5 नवंबर 2009 को हैदराबाद के मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली. इस मैच में सचिन ने  175 रन बनाए थे. लेकिन भारतीय टीम यह मैच 3 रन से हार गयी. उसके बावजूद सचिन को मैन ऑफ द मैच से नवाजा गया.


# वीरेंदर सहवाग

वीरेंदर सहवाग का पहला 150 आईसीसी विश्वकप 2011 में ढाका में बांग्लादेश टीम के खिलाफ था. उस मैच में सहवाग ने 175 रन की पारी खेली थी. इस मैच में सहवाग को मैन ऑफ द मैच से सम्मानित किया गया. भारतीय टीम ने इस मैच में सहवाग और विराट कोहली की मदद से 50 ओवरों में 370 रन बनाए थे. भारत ने  इस मैच में ब़डी आसानी से 87 रन की शानदार जीत हासिल की थी.

उसी वर्ष सहवाग ने अपना दूसरा 150 इंदौर में 8 दिसंबर को विंडीज़ के खिलाफ लगाया था. सहवाग ने इस मैच में 219 रन बनाए थे. सहवाग को इस मैच में मैन ऑफ द मैच से सम्मानित किया गया. नतीजतन विंडीज़ टीम 49.2 ओवर में केवल 265 का स्कोर ही बना पाई.



# विराट कोहली


विराट कोहली ने अपनी पहली 150 रनो की पारी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 7 फरवरी 2018 को केप टाउन में खेली. इस मैच में विराट कोहली ने नाबाद 160 रन बनाये, और टीम का स्कोर 303 रन तक पंहुचा दिया. इस मैच में विराट कोहली को मैन ऑफ द मैच पुरस्कार दिया गया. स्पिनर कुलदीप यादव और युजेंद्र चहल की अच्छी गेंदबाजी के दम पर भारत ने यह मैच 124 रनो से जीता.


उसी वर्ष कोहली ने अपना दूसरा 150 24 अक्टूबर को विशाखापत्तनम में विंडीज़ के खिलाफ लगाया. विराट ने नाबाद 157 रनो की पारी खेली और भारत को 321 के स्कोर तक पहुंचाया. इस मैच मे भी विराट को मैन ऑफ द मैच के रूप में सम्मानित किया गया. हालांकि यह मैच टाई रहा, और मुकाबला बराबरी पर छूट गया.

0 Comment

IND vs WI ODI- कप्तान विराट कोहली ने इस इंडियन खिलाड़ी को बताया जीत का हीरो, सरेआम बोला इस खिलाड़ी ने बदल दी है पूरी टीम इण्डिया की तस्वीर

भारतीय क्रिकेट टीम ने वेस्टइंडीज को वनडे सीरीज में भी हरा दिया है. आपको बता दें कप्तान विराट कोहली की बल्लेबाजी और गेंदबाजों की धारदार गेंदबाजी के दम पर बड़ी आसानी से टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज को भारत के अंदर इस वनडे सीरीज में एक तरफा मुकाबलों में हराया है. भारतीय क्रिकेट टीम ने वेस्टइंडीज को इस पेटीएम वनडे सीरीज में 3-1 से हरा दिया है. आपको बता दें कि सीरीज का एक मैच टाई रहा है जबकि 3 मैच भारतीय क्रिकेट टीम जीतती हुई नजर आई है और एक मैच वेस्टइंडीज अपने नाम करने में कामयाब रही. शुरू में इस वनडे सीरीज में एक समय ऐसा लग रहा था कि शायद इंडियन क्रिकेट टीम पांच मैच जीत जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ है. virat-kohli-words-for-Khaleel-Ahmed सीरीज का अंत 3-1 से होता हुआ नजर आया है. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने मैच के अंत में टीम इंडिया के एक खिलाड़ी की जमकर तारीफ की है. आइये आपको बताते हैं कि वह खिलाड़ी कौन है जिसको की विराट कोहली नया हीरो बता रहे हैं- virat-kohli-words-for-Khaleel-Ahmed

Khaleel Ahmed | खलील अहमद ने पेटीएम वनडे सीरीज में पांच विकेट लिए हैं

कप्तान विराट कोहली ने वनडे सीरीज जीतने के बाद साफ-साफ खलील अहमद की तारीफ की है. विराट कोहली को अच्छा लगता है कि खलील अहमद ने बीच के ओवर में जिस तरीके से गेंदबाजी की है तो उसके बाद टीम इंडिया की ताकत और भी बढ़ गई है. virat-kohli-words-for-Khaleel-Ahmed बीच के ओवरों में खलील अहमद विकेट निकाल लेते हैं और इसी कारण से टीम इंडिया पर दबाव कम आ रहा है. साथ ही साथ विराट कोहली ने ऐसा भी बोला है कि खलील अहमद की परफॉर्मेंस के दम पर ही टीम इंडिया आसानी से मैच जीतती हुई नजर आई है. खलील अहमद 3 मैच में कमाल की गेंदबाजी की और अपनी गेंदबाजी से कप्तान विराट कोहली को काफी खुश कर दिया है. यही कारण है कि इस युवा खिलाड़ी की तारीफ करते हुए विराट कोहली नजर आए हैं. खलील अहमद ने इस सीरीज में 3 मैचों के अंदर 5 विकेट लिए हैं और उन्होंने 150 गेंदों में मात्र 142 रन दिए हैं.

0 Comment

ODI Series 2018 Ind vs WI- 21 अक्टूबर से शुरू वनडे सीरीज में इन 3 युवा बल्लेबाजों को मौका जरूर मिलना चाहिए

भारत और वेस्टइंडीज के बीच में 21 अक्टूबर से शुरू होने वाली वनडे सीरीज में किन युवा खिलाड़ियों को मौका देना है, यह सवाल निश्चित रूप से इस समय विराट कोहली को परेशान कर रहा होगा। विराट कोहली चाहते हैं कि वेस्टइंडीज के साथ सीरीज में वह अधिक युवा खिलाड़ियों को मौका दें ताकि आने वाली सीरीज के लिए उनके पास अच्छी खासी टीम तैयार हो सके लेकिन जिस तरीके से बेंच पर अभी टीम इंडिया के अंदर कंपटीशन लगा हुआ है तो वह कंपटीशन हर किसी को परेशान कर रहा है. आइए आपको बताते हैं कि वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज में किन-किन खिलाड़ियों को निश्चित रूप से विराट कोहली को मौका देना चाहिए-   मनीष पांडे odi-series-2018-ind-vs-wi-indian-cricket-team मनीष पांडे को इस सीरीज में मौका जरूर मिलना चाहिए। मनीष पांडे सभी मैच खेलें और अगर इस बार वह अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं तो उनको  आगे के लिए ही टीम इंडिया से बाहर कर देना चाहिए या फिर जब तक वह फॉर्म में वापस नहीं आए तब तक उनको टीम से बाहर रखना चाहिए.   अम्बाती रायडू odi-series-2018-ind-vs-wi-indian-cricket-team अंबाती रायडू को भी इस सीरीज में खेलने का मौका जरूर मिलना चाहिए। अंबाती रायडू काफी समय बाद टीम इंडिया में वापसी कर रहे हैं और यह वापसी निश्चित रूप से अंबाती रायडू के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं. आगे आने वाले मैचों के लिए अंबाती रायडू किस तरीके का प्रदर्शन करते हैं यह देखना हर कोई चाहता है. इसलिए अंबाती रायडू को भी मौका मिलना चाहिए.   ऋषभ पंत odi-series-2018-ind-vs-wi-indian-cricket-team तीसरा और युवा खिलाड़ी ऋषभ पंत है जिसको कि इस बार वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलने का मौका हर हालत में मिलना चाहिए। ऋषभ पंत के लिए यह सीरीज काफी महत्वपूर्ण है और वह अगर इस तरीके से वनडे सीरीज में बेहतर प्रदर्शन कर पाते हैं तो आगे टीम इंडिया के लिए एक और विकल्प खुल जाएगा. तो इंडिया वेस्टइंडीज के खिलाफ हो रही है इस वनडे सीरीज में इन तीन भारतीय खिलाड़ियों को जरूर मौका मिलना चाहिए। मनीष पांडे, अंबाती रायडू, ऋषभ पंत  के ऊपर निश्चित रूप से हर किसी की निगाह रहने वाली है.

0 Comment

पृथ्वी शा का परिवार मुंबई छोड़कर कहीं और रहने के लिए घर खोज रहा है, राज ठाकरे की पार्टी से मिल रही हैं लगातार फोन पर धमकी

टीम इण्डिया के स्टार खिलाड़ी पृथ्वी शा को अब फोन के ऊपर धमकियां मिल रही हैं. खुद कांग्रेस के एक लीडर ने यह खुलासा किया है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में सितारे बनते जा रहे पृथ्वी शा को और उनके परिवार को लगातार फोन के ऊपर धमकियां मिल रही हैं. आपको बता दें कि पृथ्वी शा अपने परिवार के साथ पिछले कुछ 15 सालों से मुंबई में रह रहे हैं और मुंबई में ही क्रिकेट खेलना पृथ्वी शा ने सीखा है. इस समय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में पृथ्वी शा लगातार अपना नाम कमाते हुए दिख रहे हैं. कांग्रेस के नेता अखिलेश ने यह खुलासा किया है कि पृथ्वी शा के परिवार को धमकी मिल रही हैं. आइये आपको बताते हैं कि यह पूरा मामला आखिर क्या है- prithvi-shah-family

पृथ्वी शा से मनसे अब ले रहा है नफरत का बदला

सूत्रों के अनुसार इस तरह की की खबरें आ रही है कि पृथ्वी शा अपने परिवार को लेकर काफी चिंतित हैं. दरअसल पृथ्वी शा ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम से खेलते हुए यह बात बोली है कि वह बिहार के गया जिले से हैं. इनको क्रिकेटर बनने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा है. यही कारण है कि अब राज ठाकरे की पार्टी के लोग पृथ्वी शा से इस तरह का बर्ताव करते हुए नजर आ रहे हैं. 6 तस्वीरें पृथ्वी शा ने कुछ इस अंदाज में मनाया मैदान पर अंतरराष्ट्र्रीय क्रिकेट करियर में पहले अर्द्धशतक का जश्न prithvi-shah-family मीडिया ने जब ने राज ठाकरे की पार्टी के प्रवक्ता से बात की तो उन्होंने सीधे-सीधे इस बात से इनकार कर दिया है कि पृथ्वी शा को कोई धमकी नहीं दे रहा है. इस तरीके से उठकर कोई भी बोल देगा की फोन करके धमकी जा रही है तो इसका कोई सबूत भी होना चाहिए. prithvi-shah-family लेकिन कांग्रेस की पार्टी के इतने बड़े नेता का यह आरोप निश्चित रूप से काफी गंभीर है. अगर पृथ्वी शाह के परिवार को इस बयान के बाद धमकाया जा रहा है तो उसकी निंदा होनी चाहिए. मनसे महाराष्ट्र और मुंबई में अच्छा खासा उत्तर भारतीय लोगों को लेकर प्रदर्शन करती हुई भी नजर आती है, यही कारण है कि शायद पृथ्वी शा के परिवार की चिंता बढ़ी हुई है.

0 Comment