5 बड़े क्रिकेटर जो 2019 क्रिकेट विश्वकप के तुरंत बाद संन्यास ले सकते हैं

5 बड़े क्रिकेटर जो 2019 क्रिकेट विश्वकप के तुरंत बाद संन्यास ले सकते हैं

क्रिकेट विश्वकप 2019 (ICC Cricket World Cup 2019) जो बिल्कुल नजदीक आ गया है। यह टूर्नामेंट इंग्लैंड में खेला जाने वाला है जबकि इनका साथी भागीदार वेल्स है। पहला मैच 30 मई को ओवल में खेला जाएगा तो आखिरी मैच 14 जुलाई को लॉर्ड्स के ऐतिहासिक क्रिकेट ग्राउंड पर होगा। इस बार इंग्लैंड के पास पहली बार विश्वकप जीतने का अच्छा मौका भी है क्योंकि उनका हालिया प्रदर्शन काफी शानदार रहा है।


खैर, आज हम बात करने वाले हैं उन खिलाड़ियों के बारे में जो इस विश्वकप के बाद क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं। तो चलिए डालते हैं एक नजर।


5 बड़े क्रिकेटर जो 2019 क्रिकेट विश्वकप के तुरंत संन्यास बाद ले सकते हैं



1. महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra singh dhoni)


भारतीय क्रिकेट टीम के 37 वर्षीय अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का नाम इस सूची में सबसे ऊपर आता है। दरअसल पिछले कुछ समय से अफवाहें तो यही सुनने को मिल रही है कि धोनी 2019 क्रिकेट विश्व कप के बाद संन्यास ले लेंगे। माही ने अब तक 90 टेस्ट मैचों में 4873, 337 वनडे में 10414 तथा 93 टी-20 मैच खेले हैं। इसके अलावा उन्होंने अपनी कप्तानी में भारत को दो विश्व कप भी जितवाये हैं। अब देखना होगा कि क्या यह संन्यास लेते है या नहीं।



2. क्रिस गेल (Chris Gayle)


वर्तमान समय में सबसे उम्रदराज खिलाड़ियों में क्रिस गेल एक हैं। बता दें कि 39 वर्षीय क्रिस गेल एक शानदार ऑलराउंडर है। हालांकि यह मुख्य रूप से बाएं से बल्लेबाजी करते हैं लेकिन वैकल्पिक गेंदबाज भी है। गेल दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक हैं जिन्होंने 284 वनडे मैचों में अब तक 9727 रन बनाए हैं। वहीं 103 टेस्ट में 7214 और 56 टी-20 मैचों में 1607 रन बनाए है।



3. लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga)


काफी समय तक तो यही लगा था कि श्रीलंकाई अनुभवी तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा अब फिर कभी वापसी नहीं कर पाएंगे। लेकिन इन्होंने एक बार फिर अपनी टीम में वापसी की और शानदार प्रदर्शन किया है। लेकिन उम्र को देखते हुए मलिंगा भी 2019 के विश्व कप के बाद अलविदा कह सकते हैं।



4. डेल स्टेन (Dale steyn)


दक्षिण अफ्रीका के 35 वर्षीय अनुभवी तेज गेंदबाज डेल स्टेन दुनिया के सबसे खतरनाक तेज गेंदबाजों में से एक हैं। बता दें कि 91 टेस्ट मैचों में यह अब तक 433 विकेट ले चुके हैं। वहीं 123 वनडे मैचों में 194 सफलताएं अपनी झोली में डाल चुके हैं। लेकिन पिछले कुछ समय से यह अच्छी गेंदबाजी नहीं कर पा रहे हैं। इस कारण ऐसा माना जा रहा है कि 2019 के विश्व कप के बाद यह भी क्रिकेट छोड़ सकते हैं।



5. शोएब मलिक (Shoaib malik)


पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और शानदार बल्लेबाज शोएब मलिक 3 दिन बाद अर्थात 1 फरवरी को 37 वर्ष के हो जाएंगे। बता दें कि इनके बारे में भी खबरें यही मिली है कि 2019 के विश्व कप के बाद वनडे क्रिकेट को छोड़ देंगे। अगर करियर पर नजर डालें 278 एकदिवसीय मैचों में 7348 रन बना चुके हैं। वहीं 35 टेस्ट और 108 टी-20 भी अपने देश के लिए खेल चुके हैं।


इन पांच बड़े खिलाड़ियों के अलावा भी कुछ ऐसे छोटे-मोटे खिलाड़ी हैं जो इस विश्व कप के बाद क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं। हालांकि हम इस बात से पुष्टि नहीं कर सकते कि यह बल्लेबाज भी 2019 में ही संन्यास लेंगे या नहीं।


यह भी जरूर पढ़ें- 6 क्रिकेट जगत के महान खिलाड़ी जो क्रिकेट ग्राउंड पर ही फूट-फूटकर रोते हुए नजर आये हैं

0 Comment

धोनी की 5 अच्छी आदतें जिसके चलते भारत का बच्चा-बच्चा करता है महेंद्र सिंह धोनी से बेपनाह प्यार

Why is MS Dhoni very famous, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का नाम उन चुनिंदा खिलाड़ियों में लिया जाता है जिन्होंने भारत को कई ऐसे ऐतिहासिक अवसर प्रदान किए हैं जिससे हिंदुस्तान का नाम रोशन हुआ है.

धोनी इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान है, जो अपनी टीम को विपरीत परिस्थितियों में से निकाल कर जीत की दहलीज तक ले जाते हैं. धोनी ने भारत को 28 साल बाद विश्व कप 2012 दिल आया. महेंद्र सिंह धोनी को भारत सरकार से पदम भूषण पदम श्री पदम विभूषण आदि अवार्ड से नवाजा गया है. देश का बच्चा-बच्चा इस होनहार कप्तान की बहादुरी को देख कर धोनी बनना चाहता है. ऐसे ही धोनी की 5 अच्छी आदतें जो सबको बनानी चाहिए.

Why is MS Dhoni very famous | धोनी की 5 अच्छी आदतें


1. शांत स्वभाव

धोनी मात्र एक ऐसे खिलाड़ी है जो आज तक के इतिहास में सबसे ज्यादा सज्जन और शांत स्वभाव के ले जाने जाते हैं. धोनी को मैदान पर बहुत ही कम बार गुस्से में देखा गया है.


2. सब का सम्मान करते

पूर्व भारतीय कप्तान धोनी छोटा हो या बड़ा हो सब के साथ अपने सज्जनता के स्वभाव से ही परिचित होते हैं. आज भी वह उसी से अपने बाल कटवाते हैं. जब वह स्ट्रगल कर रहे थे. इसी तरह चलता है कि वह कितने दयालुता और सब को सम्मान देते.


3. जल्दी सुबह उठना

धोनी सुबह जल्दी उठ जाते हैं और एक्सरसाइज करने लगते हैं जिससे वह फिट और तंदुरुस्त लगते हैं. वह अपने काम के प्रति बहुत लगन शील और इमानदार होते हैं.


4. दान देना

भारतीय कप्तान धौनी का दिल गरीबों, जरूरतमंदों को देखकर पसीज जाता है. वह हर तीज-त्योहार को गरीब लोगों की मदद करते है जिसके चलते लोग उन्हें बहुत ज्यादा पसंद करते है.


5.शराब से दूरी

धोनी शराब के सेवन से बहुत बचते है. जो लोग मदिरापान करते है धोनी उनसे कोषों दूर खड़े होते है. वह कभी शराब को हाथ तक नहीं लगाते है जिससे की शान में चार चाँद ओर लग जाते है.

Also Read

Ms Dhoni के वनडे के अंदर सबसे यूनिक रिकार्ड्स जो 90 प्रतिशत लोग नहीं जानते हैं, 9 बार माही ने दिलाई है सिर्फ छक्का मारकर जीत

आईपीएल में सिक्स मारने पर खिलाड़ियों को कितने पैसे मिलते हैं, जानिए बल्लेबाज को कितने सारे लाखों रुपैय मिलते हैं


तो महेंद्र सिंह धोनी की यह 5 अच्छी आदतें हैं जिनकी वजह से आज भारत में उनको इतना प्यार किया जाता है. आपको अगर धोनी की दूसरी बातें अच्छी लगती हैं तो हमें कमेंट करके जरूर बताओ.

0 Comment

5 भारतीय युवा खिलाड़ी जिनका विश्वकप 2019 के लिए इंडियन टीम में हो सकता है चयन, एक खिलाड़ी तो सचिन और विराट के रिकार्ड्स तोड़ेगा

talented indian young batsman list- आईपीएल सहित घरेलू क्रिकेट से प्रत्येक वर्ष भारत को कई होनहार और प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं. जिनमे से कुछ को टीम इंडिया के लिए खेलने का भी मौका दिया जाता हैं. हालाँकि बड़े घरेलू क्रिकेट का प्रदर्शन अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में दोहरा पाना आसान काम नहीं हैं.

आज इस लेख में टीम इंडिया के 5 ऐसे होनहार खिलाड़ियों के बारे में जानेगे, जो आने वाले वर्षो में टीम इंडिया के कई बड़ी उपलब्धि हासिल कर सकते हैं:-


Talented Indian young batsman list | 5 Upcoming stars of Indian cricket




5) शुभमन गिल

शुभमन गिल ने अपने बल्लेबाजी से साबित किया है कि वह आने वाले वर्षो में टीम इंडिया का भविष्य हो सकते हैं. गिल अंडर19 विश्वकप 2018 में शानदार प्रदर्शन के बाद सुर्ख़ियों में आये थे. टूर्नामेंट के दौरान गिल ने 124 की औसत से 372 रन बनायें थे, जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ़ द सीरीज अवार्ड से सम्मानित किया गया था.

इसके बाद गिल ने देश के सबसे बड़ी घरेलू लीग आईपीएल में भी अपने प्रदर्शन से सभी को हैरान किया था. गिल ने आईपीएल में 33.83 की औसत से 203 रन बनायें थे.



4) पृथ्वी शॉ

18 वर्षीय पृथ्वी शॉ बेहद कम उम्र में दुनियाभर में अपनी पहचान बना चुके हैं. पृथ्वी शॉ हैरिस शील्ड डिविजन मैच में 546 रनों की मैराथन पारी खेलने के बाद सबसे पहले सुर्ख़ियों में आये थे. जिसके बाद उन्हें अंडर19 क्रिकेट टीम के कप्तानी सौंपी गयी थी. इस दौरान उन्होंने शानदार बल्लेबाजी और कप्तानी से टीम इंडिया को चैंपियन बनाया था.

शॉ ने अब तक प्रथम श्रेणी से 56.22 की औसत और 5 शतकों की मदद से 1000 से अधिक रन बनायें हैं. इसके आलावा आईपीएल में भी उन्होंने दिल्ली डेयरडेविल्स की ओर से खेलते हुए सभी को प्रभावित किया था. शॉ का आलावा इसी तरह से कायम रहा तो वह जल्द ही टीम इंडिया के लिए खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं.



3) अभिषेक शर्मा

17 वर्षीय बाएं हाथ के बल्लेबाज़ अभिषेक शर्मा ने आईपीएल के अपने पहले मैच में आरसीबी के तेज गेंदबाज़ टिम साउदी को दो छक्के लगाकर सभी को हैरान किया था. हालाँकि उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स ने आईपीएल के दौरान ज्यादा मौके नहीं दिए.

न्यूज़ीलैण्ड में खेले गए अंडर19 वर्ल्डकप में अभिषेक ने शानदार प्रदर्शन किया था. वह तूफानी बल्लेबाजी के साथ-साथ बाएं हाथ के एक नियमित स्पिनर भी हैं. अभिषेक ने विजय मर्चेंट ट्राफी की 12 पारियों में 112.33 की औसत से 1200 रन और महज 10 की गेंदबाजी औसत से 59 विकेट झटके थे. अभिषेक अपनी ऑलराउंड क्षमता से टीम इंडिया के नए युवराज सिंह बन सकते हैं.



2) श्रेयस अय्यर

23 वर्षीय महाराष्ट्र के बल्लेबाज़ श्रेयस अय्यर भारत की वनडे टीम का हिस्सा हैं. अय्यर ने रणजी ट्राफी सहित आईपीएल में अपनी बल्लेबाजी से सभी को प्रभावित करते हुए टीम इंडिया में अपनी जगह बनायीं हैं. हालाँकि अभी उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह मौके नहीं दिए जाते हैं.

श्रेयस अय्यर एक ऐसे खिलाड़ी है, जो आने वाले वर्षो में टीम इंडिया के कप्तान भी बनायें जा सकते हैं. आईपीएल 2018 में अय्यर ने बल्लेबाजी के साथ-साथ अपनी कप्तानी से सभी को प्रभावित किया था.



1) ऋषभ पंत

ऋषभ पंत पिछले कुछ समय से लगातर अच्छा प्रदर्शन करने टीम इंडिया में दस्तक दे रहे हैं. इस वर्ष पंत ने आईपीएल के दौरान अपनी बल्लेबाजी को एक अलग स्तर पर ले जाकर खूब प्रशंसा बटौरी थी. पंत एक ऐसे आक्रामक बल्लेबाज़ है जो बड़ी पारी खेलने में विश्वास रखते हैं.

आईपीएल में पंत ने 684 रन बनायें थे, जिसके बाद वह आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के 600+ रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी बने हैं. पंत में वह क्षमता है जिससे वह टीम इंडिया के नए एमएस धोनी बन सकते हैं.

0 Comment

टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक बनाने वाले 5 बल्लेबाज | most number of T20 centuries

Top 5 Players with most number of T20 centuries- टी20 क्रिकेट जो सबसे छोटा क्रिकेट प्रारूप है इसमें दोनों ही टीमों को 20-20 ओवर मिलते हैं जिसमें शानदार और ताबड़तोड़ बल्लेबाजी देखने का पूरा मौका मिलता है. बता दें कि पहली बार यह मुकाबला 2005 में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के मध्य खेला गया था लेकिन अब तो हर सीरीज में ऐसे मैच देखने को मिलते हैं. आज हम आपको बताने वाले हैं इस प्रारूप में सबसे ज्यादा शतक बनाने वाले पांच बल्लेबाजों के बारे में.


टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक | Top 5 Players with most number of T20 centuries



रोहित शर्मा


भारतीय अनुभवी ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा जिन्होंने तीन टी-20 इंटरनेशनल शतक बनाए हैं. बता दें कि इनके बल्ले से पहला शतक साल 2015 को धर्मशाला में खेले गए दक्षिण अफ्रीका के मैच के दौरान लगा था. इस दौरान उन्होंने 66 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके और 5 छक्कों की मदद से 106 रन बनाए थे. इसके बाद 22 दिसंबर 2017 को श्रीलंका के खिलाफ 118 रनों की पारी खेली तो इस वर्ष 8 जुलाई को नाबाद 100 रन इंग्लैंड के खिलाफ बनाए.



कॉलिन मुनरो


न्यूजीलैंड के अनुभवी बल्लेबाज कॉलिन मुनरो रोहित शर्मा के बराबर 3 टी-20 शतक बनाने वाले इकलौते बल्लेबाज हैं. इन्होंने 2017 में दो जबकि 1 सेंचुरी इसी साल वेस्टइंडीज के खिलाफ मारी थी.



क्रिस गेल


जैसा कि आपको पता ही है कि क्रिस गेल ऐसे बल्लेबाज है जो वह बड़े-बड़े छक्के लगाते हैं. साथ ही यह टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में पहला शतक बनाने वाले बल्लेबाज हैं. हालांकि इसके बाद इनके बल्ले से एक ही शतक निकला. कुल मिलाकर दो शतकों के साथ यह तीसरे नंबर पर बने हुए हैं.



लोकेश राहुल


इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन में लोकेश राहुल ने जबरदस्त बल्लेबाजी करते हुए काफी प्रभावित किया था  भारतीय टीम में रोहित शर्मा के बाद सबसे ज्यादा टी-20 प्रारूप में शतक बनाने वाले लोकेश राहुल है जिन्होंने 2016 में 110 रनों की नाबाद पारी खेली तो इसी वर्ष इंग्लैंड के खिलाफ 101 रन बनाकर नाबाद रहे थे.



ब्रेंडन मैकुलम


न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर ब्रैंडन मैकुलम जो क्रिस गेल के बाद इस प्रारूप में शतक बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज हैं. उन्होंने पहली बार 2010 में 116 रनों की नाबाद पारी खेली थी वह मुकाबला ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला गया था. इसके बाद 2012 में बांग्लादेश के खिलाफ 123 रनों की उपयोगी पारी खेलकर नया रिकॉर्ड बनाया.

तो ट्वेंटी20 क्रिकेट में इन 5 बल्लेबाजों ने अभी तक सबसे अधिक शतक लगाकर अपनी बादशाहत बरकरार रखी हुई है. देखना होगा युवा बल्लेबाजों में कौन इस लिस्ट में अपना नाम दर्ज करता है.

0 Comment