6.6वे ओवर में मुरली विजय बाहर जाती हुई गेंद को खेलकर इस तरह से आउट होकर पवेलियन वापस लौट गए

6.6वे ओवर में मुरली विजय बाहर जाती हुई गेंद को खेलकर इस तरह से आउट होकर पवेलियन वापस लौट गए

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट मैच के पहले ही दिन इंडियन क्रिकेट टीम की शुरुआत जैसी रही है तो उसके बाद निश्चित रूप से कप्तान विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट अपने बल्लेबाजों से काफी निराश होंगे.


टीम इंडिया आज मैच के अंदर एक अतिरिक्त बल्लेबाज लेकर आई थी ताकि अगर एक बल्लेबाज जमकर टीम इंडिया की मदद करता हुआ नजर आये लेकिन आज मैच में टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने खराब शॉट सलेक्शन का इस्तेमाल किया है तो उसके बाद निश्चित रूप से हर कोई टीम इंडिया के बल्लेबाजों की आलोचना ही कर रहा होगा.




विश्व कप 2019 शुरू होने में अब कुछ ही समय बाकी रह गया है और ऐसे में टीम इंडिया के बल्लेबाजों का इस तरीके से ऑस्ट्रेलिया में प्रदर्शन निराशाजनक ही बोला जायेगा. मुरली विजय ने आज इस तरीके से खराब शॉट खेलकर अपना विकेट ऑस्ट्रेलिया को दान में दिया है तो उसके बाद मुरली विजय की भी आलोचना होनी चाहिए. मुरली विजय ने आज 11 रन के स्कोर पर ऑस्ट्रेलिया को अपना विकेट दे दिया था.




मुरली विजय ने आज मैच में 22 गेंदों का सामना किया है और 22 गेंदों में इन्होंने 50 की स्ट्राइक रेट से 11 रन बनाए. मुरली विजय का जब विकेट आउट हुआ तो उस समय टीम इंडिया सातवां ओवर खेल रही थी और यह सातवें ओवर की आखिरी गेंद थी.


मिचल स्टार्क की एक गेंद जो बाहर निकल रही थी उसके ऊपर मुरली विजय गलती कर गए और बाहर जाती हुई गेंद पर ऑस्ट्रेलिया को विकेट दे बैठे.

0 Comment

6,6,6,6 बिना किसी चौके के बस छक्कों की मदद से ग्लेन मैक्सवेल खेली धुआंधार पारी, मैक्सवेल के तूफ़ान में उड़ गयी टीम इण्डिया

इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच में खेला जा रहा पहला टी20 मैच अब कहीं न कहीं ऑस्ट्रेलिया की तरफ जाता हुआ नजर आ रहा है. आपको बता दें कि आज मैच में ऑस्ट्रेलिया टीम के बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल ने कमाल की बल्लेबाजी करके दिखाई है. जो ऑस्ट्रेलिया की टीम अभी हाल ही में लड़खड़ाती हुई नजर आ रही थी वह अब इंडिया के खिलाफ वापिस फॉर्म में दिख रही है. पहले टी20 मैच में ऑस्ट्रेलिया टीम में बारिश से पहले खेले गए 17 ओवर में 3 विकेट पर 153 रन बना लिए हैं. एक समय जो ऑस्ट्रेलिया की टीम लड़खड़ाती हुई दिख रही थी और ऐसा लग रहा था कि यदि 130 पर आउट हो जाएगी वह अब 180 पर पहुंची हुई दिख रही है.

ग्लेन मैक्सवेल के तूफान में इंडियन क्रिकेट टीम आज पूरी तरीके से उड़ गई और टीम के हर गेंदबाज की मैक्सवेल ने जमकर पिटाई कर दी है. ग्लेन मैक्सवेल ने मात्र 23 गेंदों पर अभी तक 46 रन बना लिए हैं और उनके बल्ले से 4 छक्के निकले हैं. हैरान कर देने वाली बात यह है कि मैक्सवेल ने इन 46 रनों की पारी में अभी तक एक भी चौक का नहीं लगाया है और इनकी स्ट्राइक रेट 200 की है.


Glenn maxwell batting in 1st t20 match against india



जिस खिलाड़ी को सभी नजरअंदाज कर रहे थे, वह ग्लेन मैक्सवेल एक बार फिर से फॉर्म में वापस आते हुए नजर आए हैं. ग्लेन मैक्सवेल ने क्रुणाल  पांड्या की तो आज मैदान पर जमकर पिटाई कर दी है.

कुणाल पांड्या ने 4 ओवरों के स्पेल में 55 रन दिए हैं और उनके नाम कोई भी विकेट नहीं रहा है. इनकी इकोनामी भी आज मैच में 13.75 की रही है. 4 ओवरों में इनके खिलाफ ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों ने 6 शानदार छक्के लगाए हैं जिसमे की ग्लेन मैक्सवेल की एक ही ओवर में 3 छक्के भी शामिल है.

ऑस्ट्रेलिया की टीम इस समय शानदार स्थिति में है और ऐसा लग रहा है कि शायद पहला टी20 मैच आस्ट्रेलिया के में जा सकता है. 17 ओवर में बारिश के कारण खेल रोक दिया गया है.

0 Comment

3 महान बल्लेबाज जो कुमार संगकारा के वनडे में लगातार 4 वनडे में 4 शतक बनाने के रिकॉर्ड की बराबरी कर सकते हैं, 2 नाम भारतीय बल्लेबाजों के हैं

Sangakkara smashes 4th consecutive century in odi- मुम्बई में बीते दिनों भारत और वेस्टइंडीज के खिलाफ चौथे मैच में जब भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया तो सभी को लगा कि कोहली लगातार चौथे वनडे में भी शतक लगाएंगे. 


लगातार चार वनडे में चार शतक लगाने का रिकॉर्ड श्रीलंका के महान बल्लेबाज कुमार संगाकारा के नाम है. विराट कोहली मुम्बई में यह कारनामा करने वाले दूसरे बल्लेबाज होते लेकिन विराट 17 गेंदों पर 16 रन बनाकर आउट हो गए  और इस रिकॉर्ड को बनाने में चूक गए.

इस मैच में सब कुछ वैसा ही हुआ जैसा भारतीय टीम व फैन्स चाहते थे. बस एक ही बात का मलाल रहा कि भारतीय कप्तान विराट कोहली का शतक नही लगा. अगर ऐसा होता तो विराट कोहली कुमार संगकारा के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेते. भारतीय टीम की वनडे क्रिकेट में यह तीसरी सबसे बड़ी जीत थी. लेकिन इस जीत की खुशी से ज्यादा गम विराट के शतक न बनाने से था.


फिलहाल संगकारा का 4 शतक लगाने का रिकॉर्ड सुरक्षित हैं. कुमार ने यह शतक आईसीसी वर्ल्डकप कप 2015 में चार अलग अलग देशो के खिलाफ लगाए थे. विराट को उम्मीद थी कि वह संगकारा के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे.

लेकिन रोच की गेंद पर वह अपना विकेट दे बैठे और उनका यह सपना फिलहाल अधूरा रह गया. हालांकि विराट यह सपना भविष्य में पूरा करने की काबिलियत रखते है. कोहली के अलावा 3 और ऐसे  खिलाड़ी हैं, जो भविष्य में कुमार संगकारा के रिकॉर्ड की बराबरी कर सकते हैं-


Sangakkara smashes 4th consecutive century in ODI



1. विराट कोहली

भारतीय कप्तान विराट कोहली अकेले ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्होंने लगातार 3 वनडे मैचों में 3 शतक लगाये हैं. इससे पहले 6 बार विराट कोहली ने लगातार 2 वनडे मैच में 2 शतक लगाए हैं. कोहली जिस बेहतरीन फॉर्म में चल रहे है अगर वह कुमार संगकारा के रिकॉर्ड को तोड़ते तो कोई हैरानी वाली बात नही होती और कोहली की बल्लेबाजी देखते हुए यह ज्यादा मुश्किल भी नही लगता.



2. केन विलियमसन
 न्यूज़ीलैंड के केन विलियमसन की बल्लेबाजी में वह गुण मौजूद हैं जो उन्हें इस कठिन रिकॉर्ड के क़ाबिल बनाता है. विलियमसन ने अब तक 121 वनडे मैचों में 11 शतक लगा चुके हैं. साल 2015 में वो लगातार 3 वनडे में 3 शतक बनाने के क़रीब पहुंच गए थे. उनका स्कोर क्रमश: 93, 118 और 90 रन था. केन जब भी मैदान पर होते हैं, तब अपनी टीम के लिए ज़रूरी रन बनाते हैं. विलियमसन तेज व स्पिन दोनों तरह की गेंदों पर शॉट लगाने में माहिर हैं.  इसके अलावा उन्हें आईपीएल खेलने का भी अच्छा अनुभव हासिल है. विलियमसन मानसिक रूप से भी काफ़ी मज़बूत खिलाड़ी हैं, वो मुश्किल हालात में भी अपना संयम बनाये रखते हैं. यही वजह है कि वो संगकारा के रिकॉर्ड की बराबरी कर सकते हैं.




3.रोहित शर्मा
टीम इंडिया में हिटमैन के नाम से मशहूर खिलाड़ी रोहित शर्मा बड़ी पारी खेलने के लिए जाने जाते हैं. लम्बी पारी खेलना रोहित की हॉबी बन चुकी है. रोहित शर्मा ने 186 वनडे पारियों में  21 शतक व 3 दोहरे शतक लगाए है. रोहित विश्व के अकेले ऐसे बल्लेबाज़ हैं जिन्होंने वनडे में 3 बार 200 रन के आंकड़े को पार किया है. रोहित ने 3 अलग-अलग मौकों पर लगातार 2 मैचों में 2 शतक लगाये है.


रोहित शर्मा एक विस्फोटक बल्लेबाज़ हैं. वनडे में भारतीय टीम की ओपनिंग करने की वजह से उनके पास शतक बनाने का ज़्यादा मौका रहता है. संगकारा के रिकॉर्ड को तोड़ने के प्रबल दावेदारो में रोहित का नाम भी शामिल है. उम्मीद है कि रोहित इस कारनामे को जल्द ही कर लेंगे. इस तरह से यह 3 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के ऐसे खिलाड़ी हैं जो लगातार 4 वनडे मैच में 4 शतक लगाने का दम रखते हैं.

0 Comment

पॉवर प्ले के 4 सबसे खतरनाक बल्लेबाज, ये बल्लेबाज करते हैं पावर प्ले में गेंदबाजों की जमकर पिटाई

क्रिकेट जगत में आज कई खिलाड़ी जो लगातार शानदार प्रदर्शन करते हुए बड़े-बड़े रिकॉर्ड बना रहे हैं. इसमें भारतीय टीम के हिटमैन कहे जाने वाले रोहित शर्मा, विराट कोहली और शिखर धवन जैसे खिलाड़ियों का भी नाम शामिल है. वहीं पाकिस्तान क्रिकेट टीम के फखर जमान, बाबर आजम और इमाम उल हक पिछले कुछ समय से शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं.


आज हम उन खिलाड़ियों के बारे में बात करने वाले हैं जो पावर प्ले में सबसे बेहतरीन बल्लेबाजी करते हैं और उनके सामने गेंदबाज बोलिंग करने में कतराते हुए नजर आते हैं.


इन बल्लेबाजों के सामने पावर प्ले में गेंदबाज आते हैं कांपते हुए नजर




रोहित शर्मा


भारतीय क्रिकेट टीम के शानदार ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा दुनिया के इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं जिनके नाम वनडे में तीन दोहरे शतक तथा टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में 4 शतक है. उन्होंने 2018 में अब तक 2 शतक बनाए हैं और सबसे अधिक शतक बनाने वाले भी बल्लेबाज बन चुके हैं. जानकारी के लिए आपको बता दें कि रोहित शर्मा के सामने हर गेंदबाज बॉलिंग करने से कतराता हुआ नजर आता हैं क्योंकि अगर यह जम जाते हैं तो बॉलर की खटिया खड़ी कर देते है.


पॉवर प्ले में जब रोहित का बल्ला बोलने लगता है तो गेंदबाज कांपने लगते हैं. आईपीएल हो या अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट यह हमेशा शानदार बल्लेबाजी करते हुए दिए गए हैं.




आरोन फिंच


ऑस्ट्रेलिया क्रिकेटर आरोन फिंच जो शानदार बल्लेबाज है और टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट में एक मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी है. बता दें कि यह पॉवर प्ले में भी शानदार बैटिंग करते हुए नजर आते हैं.




जोस बटलर


इंग्लैंड के अनुभवी ओपनर बल्लेबाज जोस बटलर जो टी-20 के खतरनाक बल्लेबाज हैं. इन्होंने आईपीएल 2018 में भी शानदार प्रदर्शन करते हुए कई बड़े कारनामे किए. इसी तरह अगर बटलर पावर प्ले में अपनी आंखें जमा देते हैं तो गेंदबाजों की खूब पिटाई करते हुए नजर आते हैं.




इविन लुईस


कैरीबियन क्रिकेटर की इविन लुईस जो कि एक युवा ओपनर बल्लेबाज हैं और क्रिस गेल की भांति बड़े-बड़े शॉट लगाने की क्षमता रखते है. बता दें कि यह युवा बल्लेबाज जो बाएं हाथ से बैटिंग करता है और पावर प्ले में गेंदबाजों की खूब पिटाई करता है, जिसके सामने बॉलर गेंदबाजी करने से कतराते हैं.


इस प्रकार आज वर्तमान समय में क्रिकेट जगत के ये शानदार बल्लेबाज पॉवर प्ले में जबरदस्त बैटिंग करते है और गेंदबाजों की खूब धुनाई करते हुए नजर आते है.

0 Comment