ये है वर्ल्ड के 5 सबसे विस्पोटक सलामी बल्लेबाज

ये है वर्ल्ड के 5 सबसे विस्पोटक सलामी बल्लेबाज

ये है वर्ल्ड के 5 सबसे विस्फोटक  सलामी बल्लेबाज


Duniya ke 5 khatarnak Ballebaj - वनडे क्रिकेट समय के साथ काफी विकसित हो गया है और बल्लेबाज़ अब ज्यादा आक्रमक बल्लेबाजी करने लगे हैं. गेंदबाजी, बल्लेबाज़ या फील्डिंग के दौरान आक्रामक प्रवृत्तियों वाले खिलाड़ियों को हमेशा खतरनाक माना जाता है.

इस समय ऐसा था, जब वनडे क्रिकेट में 250 का स्कोर एक जीत का स्कोर माना जाता था, लेकिन अब समय बदल गया है. टीम अब 400 रन बनाने लगी है जबकि एक ही बल्लेबाज़ अब वनडे क्रिकेट में 200 रन बना देता हैं. इस लेख में हम वर्ल्ड क्रिकेट के 5 सबसे विस्पोटक सलामी बल्लेबाजों के बारे में जानेगे:-

5) आरोन फिंच Aaron finch

आरोन फिंच लम्बे समय ऑस्ट्रेलिया के लिए वनडे क्रिकेट खेल रहे हैं. इस दौरान उन्होंने कई विस्पोटक पारियां खेली हैं. सिमित ओवर क्रिकेट के स्पेशलिस्ट फिंच किसी भी क्रिकेट मैदान के बाहर गेंद पहुंचाने की ताकत रखते हैं.

आरोन फिंच तेज गेंदबाजो के आलावा स्पिन गेंदबाजी के विरुद्ध भी बेहद आक्रामक बल्लेबाजी श्रेली से बल्लेबाजी करते हैं. डेविड वॉर्नर ओए स्टीव स्मिथ के 12 महीनों के बैन के बाद से वह ऑस्ट्रेलिया टीम के सबसे प्रमुख बल्लेबाज़ बनाकर सामने आये हैं.

4) मार्टिन गुप्तिल- न्यूज़ीलैण्ड  Martin Guptil

न्यूज़ीलैण्ड के सलामी बल्लेबाज़ मार्टिन गुप्तिल वर्ल्ड क्रिकेट के सबसे अंडररेटेड बल्लेबाज़ हैं. गुप्तिल ने उपरीक्रम में न्यूज़ीलैण्ड के लिए कई महत्वपूर्ण पारियां खेली हैं. वर्तमान में वह दुनिया के सबसे क्लीन हिटरो में से एक हैं.

31 वर्षीय मार्टिन गुप्तिल ने अब तक न्यूज़ीलैण्ड के लिए 159 वनडे मैचो में 42.69 की औसत और 86.4 की स्ट्राइक रेट से 5976 रन बनायें हैं. इस दौरान गुप्तिल 237 रनों के सर्वोच्च स्कोर सहित कुल 13 शतक भी लगायें हैं.

3) जैसन रॉय- इंग्लैंड   


इंग्लैंड की टीम कुछ वर्षो पहले तक वनडे क्रिकेट को गंभीरता से नहीं लेती थी. लेकिन आईसीसी वर्ल्ड कप 2015 के बाद क्रिकेट ने अपनी मानसिकता बदली और टीम में जैसन रॉय जैसे विस्पोटक बल्लेबाजों को मौका दिया. इसके बाद इंग्लैंड वनडे टीम की रूप रेखा ही बदल गयी.

जैसन रॉय ने अब तक वनडे क्रिकेट में 39.06 की औसत और 104.35 की स्ट्राइक रेट से 2422 रन बनायें हैं. इस दौरान रॉय ने 6 सैंकड़े में लगायें हैं.

2) फखर ज़मान- पाकिस्तान


पाकिस्तान के 28 वर्षीय सलामी बल्लेबाज़ फखर ज़मान आईसीसी चैंपियंस ट्राफी 2017 के फाइनल में भारत के विरुद्ध शानदार शतक लगाने के बाद रातों रात स्टार बन गए थे. इसके बाद से फखर ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और अपनी शानदार फॉर्म को कायम रखा हैं. हाल में फखर ने जिम्बाब्वे के विरुद्ध नाबाद 210 रनों की पारी खेली थी. इसके आलावा उन्होंने वनडे क्रिकेट में सबसे 1000 रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी तोडा था.

फखर ज़मान ने अब तक वनडे करियर के दौरान 18 मैचो में 76.07 की औसत और 101.91 की स्ट्राइक रेट से 1065 रन बनायें हैं. इस दौरान उन्होंने 3 शतक भी लगायें हैं.

1) रोहित शर्मा- भारत Rohit Sharma

रोहित शर्मा ने अपने करियर की शुरुआत बतौर मध्यक्रम बल्लेबाज़ की थी. लेकिन इनकंसिस्टेंट प्रदर्शन के कारण तत्कालीन कप्तान एमएस धोनी ने आईसीसी चैंपियंस ट्राफी 2013 में उन्हें बतौर सलामी बल्लेबाज़ मौका दिया. जिसके बाद से उनका करियर ही बदल गया और आज वह सिमित ओवर क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक हैं.

रोहित शर्मा ने बतौर सलामी बल्लेबाज़ कई शानदार पारियां खेलकर टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की कर ली हैं. रोहित शर्मा वनडे क्रिकेट में बतौर ओपनर 3 दोहरा शतक भी लगा चुके हैं. इस दौरान उन्होंने श्रीलंका के विरुद्ध 264 रनों की एतिहासिक पारी भी खेली थी.  


0 Comment

3 बदकिस्मत क्रिकेटर जिन्होनें 30 साल की उम्र से पहले ले लिया सन्यास, 1 को तो दिल में छेद की वजह छोड़ना पड़ा क्रिकेट

हाल ही में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक ने अपने क्रिकेट कैरियर को समाप्त कर दिया है। इन्होंने अपनी टीम के लिए कुल 161 मैच खेले और सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। हालांकि इन्होंने अपने आखिरी मैच में शतक और अर्धशतक भी बनाया किन्तु चौथे टेस्ट के बाद यह ऐलान कर दिया था कि ये अब क्रिकेट नहीं खेलेंगे। एक बात देखें तो इन्होंने अपना क्रिकेट तो पूरा खेला क्योंकि कई ऐसे क्रिकेटर रहे है जिन्होंने 30 साल से पहले ही क्रिकेट छोड़ दिया। तो आज हम इसी टॉपिक को लेकर बात करने वाले है उन तीन क्रिकेटरों की जिन्होंने 30 साल से पहले ही क्रिकेट को अलविदा कह दिया।


इन तीन खिलाड़ियों ने लिया 30 साल से पहले से संन्यास


1) जेम्स टेलर( James Taylor sanyas)


इंग्लैंड के युवा बल्लेबाज जेम्स टेलर ऐसे क्रिकेटर है जिन्होंने महज 26 साल की उम्र में ही क्रिकेट को अलविदा कह दिया। इसके पीछे कारण यह है कि इन्हें दिल की गंभीर बीमारी है। टेलर ने इंग्लॅण्ड के लिए 7 टेस्ट और 27 वनडे मैच खेलकर 2016 में संन्यास ले लिया।


2) क्रेग कीस्वेटर


वहीं इंग्लैंड के एक और क्रिकेटर क्रेग कीस्वेटर रहे जिन्होंने महज 27 साल की उम्र में क्रिकेट को छोड़ दिया। साथ ही आपको याद दिला दें कि 2010 के विश्व टी20 में इंग्लैंड की फाइनल में जीत में इन्हें मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड भी दिया गया था। इनके संन्यास के पीछे कारण थी उनकी आँख की चोट।


3) तातेंदा तायबू (Tatenda Taibu retirement )

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान तातेंदा तायबू जिन्होंने सिर्फ 29 साल की उम्र में ही क्रिकेट को अलविदा कह दिया। हालांकि इन्होंने 28 टेस्ट, 150 वनडे और 17 टी20 मैच खेले। अगर ये चाहते तो अपने कैरियर को और आगे बढाकर खूब कारनामे कर सकते थे लेकिन इन्हें आगे सिर्फ चर्च के लिए ही काम करना था।

0 Comment

क्रिकेट जगत के ये 10 बड़े रोचक तथ्य जिसे जानकर आप भी जो जाओगे हैरान - क्रिकेट पंचायत

Cricket interesting facts - क्रिकेट आज खेल जगत का सबसे ज्यादा लोकप्रिय और मजेदार खेल बनकर उभरा है। आज हर दिन कोई न कोई टीम मैच जरूर खेलती है और अनगिनत छोटे या बड़े रिकॉर्ड बनते है जिसके ऊपर लोग बहुत कम ध्यान देते है। हालांकि बाद में इन रिकॉर्ड को जरूर याद किया जाता है और आज हम भी ऐसे ही पुराने रिकॉर्ड्स के बारे में जानने वाले है जो आपको भी पढ़ने पर मजबूर कर देते है। तो डालते है एक नजर इस टॉपिक पर...




1. ढाका का शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम और बंगाबंधू स्टेडियम ने लॉर्ड्स के ऐतिहासिक स्टेडियम से तुलना में अधिक वनडे की मेजबानी की है।


2.क्रिकेट में अब तक एक ओवर में सबसे ज्यादा रन बनाए गए रनों की संख्या 36 ही बल्कि 77 है।


3. ईशांत शर्मा 21वीं सदी में भारत के खिलाफ बल्लेबाज द्वारा बनाए गए तीनों उच्चतम स्कोर के लिए जिम्मेदार है।


एलिस्टेयर कुक - 294 रन, एडबस्टन 2011; माइकल क्लार्क - 329 रन, सिडनी 2012; ब्रेंडन मैकुलम - 302 रन, वेलिंगटन 2014। ईशांत शर्मा ने सभी का कैच ड्राप किया था।


4. क्रिस गेल ऐसे बल्लेबाज है जिन्होंने टेस्ट मैच के पहले ही ओवर की पहली गेंद पर छक्का लगाया है।


5. 12 जनवरी 1964 को, भारतीय स्पिनर बापू नाडकर्णी ने चेन्नई में खेले गए एक मैच में लगातार 21 ओवर मैडन कर डाले थे जो कि सबसे ज्यादा है।


6. क्रिस मार्टिन और बीएस चंद्रशेखर ने अपने करियर में टेस्ट रनों की तुलना में अधिक विकेट लिए हैं।


7. विल्फ्रेड रोड्स ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 4,204 रन नहीं बल्कि विकेट लिए।


8. सर जैक हॉब्स ने अपने प्रथम श्रेणी के कैरियर में 199 शतक बनाए।


9. विश्वकप के एक मैच में, 335 का पीछा करते हुए सुनील गावसकर ने 174 गेंदों पर नाबाद 36 रनों की शर्मनाक पारी खेली थी।


10. जिम लेकर ने एक बार टेस्ट मैच में 19 विकेट लिए थे जो कि अब तक के इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट है।



11. शेन वॉर्न की तुलना में सनथ जयसूर्या के पास ODI विकेट हैं।

0 Comment

5 क्रिकेटर जो फेमस हैं अपने टैटूज के लिए, जानिए विराट कोहली के टैटू का एक दम सही मतलब

क्रिकेट जगत में खिलाड़ियों को सिर्फ रन बनाते या विकेट लेते ही नहीं देखा जाता, बल्कि इन में भी काफी सारा फैशन होता है। कई खिलाड़ी जो अपने हमेशा नए फैशन बाल कटवाते हैं तो कई खिलाड़ी ऐसे हैं जिनके शरीर पर अनगिनत संख्या में टैटू बने होते हैं। तो आज हम बात करने वाले हैं दुनिया के 5 महान खिलाड़ियों के बारे में जिन्होंने अपने शरीर पर टैटू बना रखे हैं।



मिशेल जॉनसन - ऑस्ट्रेलिया - Mitchell Johnson Tattoo


ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर मिशेल जॉनसन जिन्होंने शायद सबसे ज्यादा शरीर पर टैटू बनाये है। इन्होंने हाथ से लेकर गर्दन या छाती पर जापानी शैली तथा एक बिल्ली टैटू बना रखा है। इस तरह इनका लुक बहुत अलग सा दिखने लगता है।


जेड डर्नबैच - इंग्लैंड


जेड डर्नबैच आधुनिक युग के एक और स्टाइलिश क्रिकेटर है। अपने हाथों के साथ-साथ इन्होंने अपनी छाती पर कुछ वास्तविक और रोचक कलाकृतियों के साथ टैटू बनवा रखे है और इसके लिए ये भी बहुत लोकप्रिय है।



विराट कोहली - भारत - Virat Kohli Tattoo


सूची में तीसरा नाम सबसे बड़ा है और वह है भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली। कोहली एक टैटू प्रेमी है जिन्होंने अपने शरीर पर कुछ असली दिलचस्प बातों के साथ टैटू बनवा रखे है। इन्होंने एक दाहिनी भुजा पर जापानी समुराई योद्धा का टैटू बना रखा है।


ब्रेंडन मैकुलम - न्यूजीलैंड - Brendon Mccullum Tattoo


पूर्व कीवी कप्तान ब्रेंडन मैकुलम को भला कौन भूल सकता है। ये क्रिकेट की दुनिया में सबसे लोकप्रिय खिलाड़ियों में से एक और साथ ही टैटू प्रेमी है। उन्होंने अपने दाएं हाथ पर टैटू गुदवा रखा है।


केविन पीटरसन - इंग्लैंड - Kevin Peterson Tattoo


इसी तरह एक और अंग्रेजी क्रिकेटर केविन पीटरसन भी अपने स्टाइलिश बल्लेबाजी अंदाज के अलावा टैटू के भी शौक़ीन रहे है। इन्होंने अपनी टीम के लियर लंबे समय तक क्रिकेट खेला और बड़ी ऊंचाइयों तक पहुँचाया है। इनके शरीर पर भी आपको बहुत सारे टैटू देखने को मिलने वाले है।

0 Comment